Advertisement

Advertisement

आज का पंचांग 11 मई 2022: 11 मई 2022 बृहस्पतिवार का दिन विशेष है। पंचांग के पैरामीटर आज सिंह राशि में गोचर हैं। आज दो बड़े गेम गेम शनि देव मकर राशि और गुरु यानि बृहस्पति मीन राशि में विराजमान हैं। बुधवार का दिन गणेश जी का प्रिय दिन है। आज गणेश की पूजा का आयोजन किया गया। बुधवार का दिन गणेश जी का प्रिय दिन है। गणेश जी को बुद्धि का दाता कहा गया है। इस क्रिया को करने के लिए गणेश जी की कृपा प्राप्त करें। आज का शुभ मुहूर्त और राहुकाल।

आज की तारीख (आज की तिथि): 11 मई 2022 को वैशाख मास के शुक्ल ग्रह मंगल ग्रह हेलो है। आज वैशाख शुक्ल दशमी की तारीख है। प्रदूषण को ठीक करना 7 बजकर 33 पर होने वाला जा रहा है। आज व्याध योग का निर्माण हो रहा है।

आज का नक्षत्र (आज का नक्षत्र): 11 मई 2022 को पंचांग के पूर्वा फाल्गुनी नक्षत्र है। सोम शाम 7 बजकर 33 जो अब तक पूरी हो चुकी है। आज का दिन विशेष है।

आज का राहुकाल (आज का राहु काल)
पंचांग के हिसाब से 11 मई 2022 बृहस्पतिवार को राहुकाल सुबह: 12 बजकर 17 मिनट से सुबह 1 बजकर 58 तक पूरी। संपर्क में रखा गया है.

11 मई 2022 पंचांग (आज का पंचांग 11 मई 2022)

  • विक्रमी संवत: 2079
  • मास पूर्णिमांत: वैशाखी
  • शुक्ल
  • दिन: गुरुवार
  • ग्रीष्म ऋतु: ग्रीष्म
  • तिथि: दशमी – 19:33:15 तक
  • नक्षत्र: पूर्वा फाल्गुनी – 19:28:37 तक
  • करण: तैतिल – 07:35:33 तक, गर – 19:33:15 तक
  • योग: व्याध – 19:24:36 तक
  • सूर्योदय: 05:33:11 AM
  • सूर्योदय: 19:02:07 अपराह्न
  • चन्द्रमा: सिंह राशि- 25:33:30 तक
  • राहुकाल: 112:17:39 से 13:58:46 तक (इंस काल में भी शुभ कार्य है)
  • शुभ मुहूर्त का समय, अभिजीत मुहूर्त: कोई नहीं
  • निर्देश शूल: उत्तर

घुड़सवारी मुहूर्त का समय

  • होममुहूर्त: 11:50:41 से 12:44:37 तक
  • कुलिक: 11:50:41 से 12:44:37 तक
  • कंटक: 17:14:16 से 18:08:12 तक
  • कालवेला / याम: 06:27:06 से 07:21:02 तक
  • यमघंट: 08:14:58 से 09:08:54 तक
  • यमगंद: 07:14:18 से 08:55:25 तक
  • गुलिक काल: 10:36:32 से 12:17:39 तक

अस्वीकरण : मीडिया की जानकारी और जानकारी पर आधारित है। ABPLive.com किसी भी प्रकार की जानकारी, जानकारी की जानकारी रखता है। किसी भी जानकारी या जानकारी के बारे में जान लें।

राशिफल 11 मई: मिथुन राशि और मीन राशि पर लागू गणेश जी की कृपा, 12 राशियों का गण राशिफल

चाणक्य नीति :

Source link

Advertisement

Leave a Reply