Advertisement

Advertisement
मुंबई: विकेटकीपर बल्लेबाज दिनेश कार्तिक (Dinesh Karthik) ने एक बार फिर भारतीय टीम (Team India) के लिए अपना दावा पेश कर दिया है। 2004 में भारत के लिए पहला मैच खेलने वाले कार्तिक की जगह कभी टीम में पक्की नहीं हुए। महेंद्र सिंह धोनी के रूप में टीम में एक विकेटकीपर था। कार्तिक को कभी किसी खिलाड़ी के चोटिल होने पर मौका मिलता था तो कभी धोनी के आराम लेने पर। धोनी की तरह कार्तिक ने 2019 वर्ल्ड कप में भारत के लिए आखिरी मैच खेला था। धोनी ने दो साल पहले संन्यास ले लिया, लेकिन कार्तिक टीम में जगह बनाने के प्रबल दावेदर बन चुके हैं।आईपीएल में निभा रहे फिनिशर की भूमिका
आईपीएल 2022 में दिनेश कार्तिक रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर (Royal Challengers Bangalore) का हिस्सा हैं। अभी तक खेले गए 13 मैच में कार्तिक के बल्ले से 57 की औसत और 193 की स्ट्राइक रेट से 285 रन निकले हैं। सीजन में 100 से ज्यादा गेंद खेलने वाले बल्लेबाजों में कार्तिक का स्ट्राइक रेट सबसे बेहतर है। इसी वजह से उन्हें भारतीय टीम में शामिल करने की मांग हो रही है। इस साल अक्टूबर-नवंबर में ऑस्ट्रेलिया में टी20 वर्ल्ड कप भी खेला जाना है और कार्तिक वहां फिनिशर की भूमिका में दिख सकते हैं।

गांगुली ने कह दिया था पागल
पूर्व भारतीय कप्तान सौरव गांगुली (Sourav Ganguly) ने एक बार दिनेश कार्तिक को नाराज होकर पागल कह दिया था। यह घटना 2004 चैंपियंस ट्रॉफी में भारत-पाकिस्तान मैच की है। कार्तिक ने उसे कुछ समय पहले घटना का खुलासा करते हुए कहा था, ‘वह मेरे डेब्यू टूर था लेकिन मैं प्लेइंग इलेवन का हिस्सा नहीं था। इसके बाद भी मैंने गांगुली को गुस्सा दिला दिया। जब भी उस मुकाबले में विकेट गिरती थी तो मैं पानी लेकर मैदान में जाता था। इसी दौरान एक बार संतुलन खोने की वजह से मैं सौरव गांगुली पर जाकर गिरा। वह इस धक्के से 3-4 कदम पीछे चले गए थे।’

इसपर गांगली काफी नाराज हो गए थे। कार्तिक के अनुसार गांगुली ने चिल्लाते हुए कहा था- ऐ कौन है रे, ऐसा लोग को किधर-किधर ले लाते हैं। भारतीय टीम के पूर्व बल्लेबाज युवराज सिंह ने बाद में बताया कि गांगुली ने अपने बयान में कहा था कि ऐ कौन है रे पागल, कहां से पकड़ कर लाते हैं।

Source link

Advertisement

Leave a Reply