Advertisement

Advertisement
ऐप पर पढ़ें

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने गंगा एक्सप्रेसवे निर्माण प्रगति से संतुष्टि जताई है, लेकिन गोरखपुर लिंक एक्सप्रेसवे का निर्माण उनकी उम्मीदों के मुताबिक रफ्तार नहीं पकड़ पा रहा है। इसको लेकर मुख्यमंत्री ने काफी अप्रसन्नता जताई है। यूपीडा निर्माण कंपनी को जल्द काम करने के लिए चेतावनी जारी कर रही है। 

हाल में मुख्यमंत्री ने एक्सप्रेसवे परियोजनाओं की समीक्षा की तो पता चला कि गोरखपुर लिंक एक्सप्रेस का अब तक 74 प्रतिशत काम ही हो पाया है। बैठक में यूपीडा के अधिकारियों ने बताया कि पैकेज दो में तो काम ठीक से हो रहा है लेकिन पैकेज एक में आने वाला निर्माण जलप्लावन वाले क्षेत्र हो रहा है। इस कारण मिट्टी की गंभीर समस्या है। जिसके कारण अपेक्षित प्रगति नहीं हो पा रही है।

 

इसके लिए ठेकेदार को नोटिस दिया जा रहा है। मुख्यमंत्री ने कहा कि मिट्टी की व्यवस्था जल्द कराई जाए और जो लोग धीमी प्रगति के लिए जिम्मेदार हैं, उन पर कठोर कार्रवाई की जाए। इस साल अक्तूबर तक यह एक्सप्रेसवे हर हाल में पूरा हो जाए। गंगा एक्सप्रेसवे में मिट्टी का काम 34 प्रतिशत हो गया है। पूरी परियोजना का 16 प्रतिशत से ज्यादा काम हो गया है। मुख्यमंत्री ने साफ तौर पर कह दिया कि विद्युत लाइनों व अन्य अवरोधों को हटाने काम जुलाई तक पूरा हो जाए। मुख्यमंत्री ने पूर्वांचल एक्सप्रेस वे अन्य एक्सप्रेस वे पर जनसुविधा परिसर बनाने का काम सर्वोच्च प्राथमिकता किया जाना चाहिए। 

Source link

Advertisement