चंदे पर बवाल: महिलाओं ने छतों से बरसाए पत्थर, फेंकीं बोतलें, लखनऊ तक गूंजा मामला, आज ड्रोन से होगी निगरानी

0
53
चंदे पर बवाल: महिलाओं ने छतों से बरसाए पत्थर, फेंकीं बोतलें, लखनऊ तक गूंजा मामला, आज ड्रोन से होगी निगरानी
Advertisement

Advertisement

होली से पहले ब्रह्मपुरी थाना क्षेत्र में माहौल बिगाड़ने की कोशिश की गई। सड़क पर पड़े ईंट और पत्थर इस बात की गवाही दे रहे थे। घायल युवकों का कहना है कि महिलाओं और युवतियों ने भी छतों से पथराव किया। बोलतें भी फेंकीं। पुलिस के आने पर भी पथराव नहीं रुका। पुलिस के लाठी फटकारने के बाद आरोपी भागे। घटना के विरोध में भाजपाइयों ने तीन घंटे तक ब्रह्मपुरी थाने में हंगामा किया। भाजपा नेता कमल दत्त शर्मा ने सोमवार दोपहर तक आरोपियों की गिरफ्तारी का अल्टीमेटम दिया। 

होली का त्योहार शांतिपूर्वक सम्पन्न कराने के लिए एडीजी राजीव सभरवाल, आईजी प्रवीण कुमार और एसएसपी रोहित सिंह सजवाण रोजाना पैदल मार्च कर रहे हैं। सभी थाने की पुलिस और इंटेलीजेंस अलर्ट हैं। इसके बावजूद बवाल हो गया। घटना के बाद भाजपा नेता कमल दत्त शर्मा कार्यकर्ताओं के साथ ब्रह्मपुरी थाने पहुंचे। 



उन्होंने एसपी सिटी पीयूष सिंह, सीओ शुचिता सिंह का घेराव किया। कमल दत्त ने कहा कि दूसरे वर्ग के लोगों ने साजिश के तहत यह हमला किया। उन्होंने सवाल उठाया कि इतनी संख्या में पत्थर आरोपियों के पास कहां से आए। हिन्दू जागरण मंच के सचिन सिरोही ने भी कार्रवाई की मांग की। इस दौरान अंकित शर्मा, रमेश लोधी, प्रेम चंद्र सैनी, संदीप माहेश्वरी, रविंद्र रेत वाले, हेमंत चावला, कपिल गांधी, नवजीत भाटिया, अरुण अचल भी मौके मौजूद रहे। 

वहीं, दो वर्गों में टकराव के बाद अधिकारियों ने भी मोर्चा संभाल लिया। डीएम दीपक मीणा और एसएसपी रोहित सिंह सजवाण भूमिया पुल पर पहुंचे। यहां पर उन्होंने एसपी सिटी पीयूष सिंह से पूरे प्रकरण की जानकारी ली। संवेदनशील और अति संवेदनशील प्वाइंटों पर सुरक्षा के मद्देनजर पुलिस फोर्स तैनात कर दिया।


वीडियो बनाने पर भड़के राकेश गौड़ 

घटना के बाद मौके पर पहुंचकर खुफिया तंत्र के कर्मचारी और अधिकारी वीडियो बना रहे थे। भाजपा नेताओं की मौके पर वीडियो बनाई जा रही थी। इस पर भाजपा नेता राकेश गौड़ भड़क गए। उन्होंने कहा कि आरोपियों के खिलाफ कार्रवाई करो। हमारी वीडियो मत बनाओ।

पुराने हमले की दिलाई याद

पूर्वा इलाही बख्श में सांप्रदायिक टकराव पहले भी एक बार हो चुका है। कमल दत्त शर्मा ने बताया कि 16 सितंबर 2016 को भी बवाल हुआ था। पीड़ित कपिल गुप्ता ने बताया कि पार्षद शहजाद मेवाती और उसके परिवार के लोग बार-बार कह रहे हैं कि तुम्हें पलायन करने के लिए मजबूर कर देंगे। धमकी दी कि जिस तरह पहले पीटा था, ठीक उसी तरह पीटा जाएगा। 

 


थाने में बेहोश हुआ अंकित

थाने में एक तरफ बवाल चल रहा था तो दूसरी तरफ घायल अंकित की हालत बिगड़ गई। अंकित बेहोश होकर गिर गया। खून की उल्टी होने से अफरातफरी मच गई। पुलिस ने पीड़ित को उपचार के लिए अस्पताल भेजा। 

बुलडोजर चलाने की मांग

भाजपा नेताओं का आरोप है कि अवैध रूप से काम करके शहजाद मेवाती और सैफुद्दीन ने कई मकान खड़े कर लिए हैं। इन बुलडोजर चलना चाहिए। इसके लिए सीएम पोर्टल पर शिकायत की जाएगी। 

 


खुफिया तंत्र को नहीं लगी भनक

खुफिया तंत्र को भी इतने बड़े बवाल की भनक तक नहीं लगी, इसे लेकर सवाल खड़े हो रहे हैं। होली और शब-ए-बरात को लेकर पुलिस-प्रशासन के अफसर लगातार शांति समितियों की बैठक कर रहे हैं। 

पूर्व पार्षद के परिवार का सदस्य गिरफ्तार, 14 से ज्यादा नामजद

एसपी सिटी पीयूष सिंह के मुताबिक पूर्व पार्षद शहजाद मेवाती के परिवार के एक सदस्य को गिरफ्तार कर लिया गया है। सदस्य बताया जा रहा है। 14 से ज्यादा नामजद आरोपियों के खिलाफ केस दर्ज किया गया है। शहजाद मेवाती, भूरा, इंतजार, सैफुद्दीन, शादाब, सालिम, फराज, तौसिफ, लल्ला, मोइन, आदिल, आबिद, कामिल, मोनू, अनस, शादाब, सलमान, तोहिद, अमीर हसन, फरमान, बिलाल, हसीन, वकील, सलीक, शकील, गब्बर, समीर, आमिर, हैदर अली, इब्राहिम, इस्माइल, यूसुफ, शमीम के खिलाफ तहरीर दी गई थी।

 


Source link

Advertisement

Leave a Reply