Advertisement

केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने गुरुवार को सुझाव दिया कि दिल्ली विश्वविद्यालय (डीयू) को भविष्य में छात्रों की जरूरत के हिसाब से पाठ्यक्रम तैयार करना चाहिए। प्रधान ने कहा कि अब समय बदल रहा ह

Advertisement

Source link

Advertisement

Leave a Reply