दिल्ली से लखनऊ होते हुए आगरा पहुंचे नाबालिग छात्र: सड़क पर मिला मोबाइल उठाने के बाद सता रहा था पकड़े जाने का डर, आरपीएफ और चाइल्ड लाइन ने पहुंचाया घर

0
37
Advertisement

Advertisement
आगराएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

चाइल्ड लाइन टीम और आर पी एफ ने बच्चों को सकुशल परिवार से मिलवाया

आगरा आरपीएफ और चाइल्ड लाइन ने घर से भागे दिल्ली के दो नाबालिग बच्चों को सकुशल घर पहुंचाया है। बच्चे सड़क पर पड़ा मोबाइल उठाने के बाद पकड़े जाने के डर से घर से भाग गए थे। बच्चे सकुशल मिलने पर परिजनों ने धन्यवाद दिया है।

जानकारी के मुताबिक आगरा फोर्ट रेलवे स्टेशन पर आरपीएफ को बीती रात आगरा लखनऊ इंटरसिटी से 11 वर्ष के दो नाबालिग बच्चे नजर आए। अकेले बच्चों को घूमते देख आरपीएफ के पुलिस कर्मियों ने उन्हे बिठा लिया और चाइल्ड लाइन को सूचना दी। चाइल्ड लाइन के कोर्डिनेटर धीरज कुमार सूचना पर मौके पर पहुंचे और बच्चों से बातचीत कर उनकी काउंसलिंग की ।

पूछताछ में बच्चों ने बताया की वो दिल्ली के एक सरकारी स्कूल में सातवीं कक्षा में पढ़ते हैं। उन्हे रास्ते में एक मोबाइल पड़ा मिला था और वो मोबाइल उन्होंने छिपा दिया था। बाद में उन्हें डर सता रहा था की कहीं अब पुलिस उन्हें पकड़ न ले। इसलिए उन्होंने घर से भागने का विचार बनाया। पहले वो ट्रेन से लखनऊ पहुंचे और वहां दिन भर स्टेशन पर रहने के बाद आगरा की ट्रेन पर बैठ गए।

धीरज कुमार ने बताया की बच्चों को भोजन आदि करवाने के बाद उनसे बात करके परिजनों का नंबर लिया और उन्हें बुलाया गया। परिजनों द्वारा साक्ष्य देने के बाद पुष्टि कर बच्चों को उनके सपुर्द कर दिया गया है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Advertisement

Leave a Reply