Advertisement

Advertisement

सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा कि ट्रायल कोर्ट से रेगुलर बेल मिलने तक अंतरिम आदेश लागू रहेगा। गौरतलब है कि 89 मामलों में आजम खान पिछले 26 महीने से सीतापुर जेल (Sitapur Jail) में बंद हैं। वह एक केस में जमानत लेते तो दूसरा केस दायर हो जाता।

नई दिल्‍ली। समाजवादी पार्टी (SP) के वरिष्ठ नेता और पूर्व मंत्री आजम खान (Azam Khan) को बड़ी राहत मिली है। दरअसल आज खान को सुप्रीम कोर्ट (Supreme court) से 89वें मामले में अंतरिम जमानत मिल गई है। जिसके बाद उनके जेल से बाहर आने की संभावना बढ़ गई है। गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने अपना फैसला सुनाते हुए कहा कि आजम खान की जमानत की शर्तें ट्रायल कोर्ट (trial court) तय करेगा और नियमित जमानत के लिए उन्हें सक्षम अदालत में दो हफ्ते के भीतर अर्जी लगानी होगी। सुप्रीम कोर्ट ने यह भी कहा कि सक्षम कोर्ट की तरफ से नियमित जमानत मिलने तक अंतरिम जमानत जारी रहेगी। बता दें कि आज को इससे पहले 88 मामलों में जमानत मिल चुकी हैं।

सुप्रीम कोर्ट ने साफ कहा कि ट्रायल कोर्ट से रेगुलर बेल मिलने तक अंतरिम आदेश लागू रहेगा। गौरतलब है कि 89 मामलों में आजम खान पिछले 26 महीने से सीतापुर जेल (Sitapur Jail) में बंद हैं। वह एक केस में जमानत लेते तो दूसरा केस दायर हो जाता। इसके बाद आजम खान ने सुप्रीम कोर्ट का रुख किया था, जहां मंगलवार को सुनवाई हुई थी। कहा जा रहा है कि यदि उनके खिलाफ कोई नया मामला दर्ज नहीं होता है तो 89 वें मामले में आज सुप्रीम कोर्ट से जमानत मिलने के बाद उनके जेल से बाहर आने में कोई बाधा नहीं है।

 

 

यूपी सरकार ने किया था जमानत का विरोध
बता दें कि इससे पहले मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट में हुई सुनवाई के दौरान कोर्ट में असिस्टेंट सॉलिसीटर जनरल राजू ने आजम खान की जमानत का विरोध किया था। उन्होंने कहा था, ‘आजम खान ने ये बयान दिया था कि जिस एसडीएम ने मेरे खिलाफ मुकदमे लिखवाए, उसको मैं देख लूंगा। मेरी सरकार आने दो बस। असिस्टेंट सॉलिसीटर जनरल ने ये आरोप भी लगाया था कि आजम खान ने पूछताछ करने गए जांच अधिकारी को भी धमकी दी थी। ‘

कपिल सिब्बल ने रखी थी ये दलीलें
वहीं आजम खान की ओर से पेश हुए वकील कपिल सिब्बल ने कहा कि इस मामले में एक ही शिकायतकर्ता ने पूरक शिकायत की है। आगे की जांच के लिए कोर्ट की ओर से मंजूरी नहीं दी गई है। वे खुद ही जांच कर रहे हैं जबकि ये केस 13 साल बाद दर्ज हुआ है। ये क्या हो रहा है? आजम खान के वकील ने ये भी कहा कि हम स्कूल नहीं चलाते. हमने कुछ भी नहीं किया है।

  • 2009 से लगातार जारी समाचार पोर्टल webkhabar.com अपनी विशिष्ट तथ्यात्मक खबरों और विश्लेषण के लिए अपने पाठकों के बीच जाना जाता है।


Source link

Advertisement

Leave a Reply