पीयू छात्र संघ चुनाव की मतगणना जारी: दूसरे राउंड के बाद चारों पदों पर छात्र जदयू के उम्मीदवार आगे, छात्र राजद का हंगामा

0
27
Advertisement

Advertisement
  • Hindi News
  • Local
  • Bihar
  • Patna
  • PU Student Election: Result Will Be Told After The Third Round, Ruckus Of Student RJD; Police Lathicharged
पटना8 मिनट पहले

पटना यूनिवर्सिटी में छात्र संघ चुनाव के लिए मतगणना जारी है। पहले दो राउंड की गिनती पूरी हो गई है। दूसरे राउंड की गिनती के बाद अध्यक्ष पद के लिए आनंद मोहन, उपाध्यक्ष के लिए विक्रमादित्य, महासचिव के लिए संध्या और कोषाध्यक्ष पद के लिए रविकांत आगे हैं। सबसे बड़ी बात ये है कि चारों पदों पर छात्र जदयू के उम्मीदवार ही आगे हैं।

इससे पहले राउंड वाइज आंकड़ा बताने को लेकर छात्र राजद ने हंगामा किया है। जिसके बाद पुलिस की ओर से लाठीचार्ज किया गया है। सिन्हा लाइब्रेरी रोड पर सेंट्रल रेवेन्यू कॉलोनी के सामने छात्र राजद के सदस्य जबरन बैरिकेडिंग तोड़ कर काउंटिंग स्थल पर जाने के लिए अड़े थे। काफी देर से बहस चल रही थी। उसी बीच भिड़ में से एक ने महिला सिपाही के ऊपर पटाखा फेंक दिया। जिसके बाद पुलिस ने लाठीचार्ज कर दिया। आइसा से अध्यक्ष पद के उम्मीदवार आदित्य को हल्की चोट लगी।

इससे पहले काउंटिंग सेंटर पर SSP मानवजीत सिंह ढिल्लों के बाद PU के VC गिरीश चौधरी पहुंचे थे। SSP ने कहा कि पटना कॉलेज मामले में अज्ञात लोगों के खिलाफ FIR दर्ज कर लिया गया है। इसके साथ ही अगले 7 दिनों के हालात को देखते हुए पटना कॉलेज और पटना यूनिवर्सिटी कैंपस में लगातार 7 दिनों तक पुलिस गश्त करेगी। इस दौरान यहां भारी संख्या में पुलिस की तैनाती की जाएगी।

वहीं डीएम डॉ चंद्रशेखर सिंह ने बताया कि किसी भी प्रत्याशी को जुलूस निकालने की अनुमति नहीं दी गई है। पटना कॉलेज बवाल पर उन्होंने कहा कि पूरे मामले की जांच चल रही है। फॉलोअप के बाद सभी दोषियों पर कार्रवाई होगी।

रात में गश्ती लगाते पुलिस अधिकारी।

रात में गश्ती लगाते पुलिस अधिकारी।

बता दें पिछली बार सुबह लगभग 3-4 बजे तक वोटों की गिनती चली थी। इस बार 5 पदों के लिए 5 काउंटिंग हॉल निर्धारित किए गए हैं। यूनिवर्सिटी का कंट्रोल रूम अलग है। जिला प्रशासन के पदाधिकारियों के बैठने के लिए अलग कमरा बनाया गया है। प्रेस वालों के बैठने के लिए भी व्यवस्था की गई है। रात्रि के लिए जनरेटर की व्यवस्था यहां की गई है।

इससे पहले मतदान खत्म होने तक 54.53% वोटिंग हुई। वहीं, 2019 में 58.58% वोटिंग हुई थी। इससे पहले वोटिंग के दौरान साइंस कॉलेज में राजद-जाप समर्थकों में मारपीट हो गई थी। इधर, पटना कॉलेज में 5 से 6 राउंड गोली चलाई गई। गोली पटना कॉलेज के एंट्रेंस और जियोग्राफी डिपार्टमेंट के पास चली। इसके बाद भगदड़ मच गई।

गोली चलाने का आरोप पटेल छात्रावास के छात्रों पर लगा है। डराने के लिए हवाई फायरिंग की गई। यही नहीं पत्रकारों के साथ बदसलूकी की गई। सूचना मिलने पर मौके पर भारी पुलिस बल को भेजा गया था।

इससे पहले पटना वीमेंस कॉलेज में रसगुल्ले को लेकर जमकर हंगामा हो गया है। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि यह पुलिसकर्मी किसी प्रत्याशी द्वारा दी गई मिठाई को अंदर ले जा रही थीं।

इधर, दूसरी तरह लड़कियों के पैरों में गिरकर वोट मांगने वाले जन अधिकार छात्र परिषद का अध्यक्ष प्रत्याशी दीपंकर कुमार भी दहाड़ मारकर रोते नजर आए। उन्होंने प्रशासन पर मिलीभगत का आरोप लगाया है।

रसगुल्ले मिलने के बाद कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया।

रसगुल्ले मिलने के बाद कार्यकर्ताओं ने जमकर हंगामा किया।

महिला कॉन्स्टेबल पर रसगुल्ले पहुंचाने का आरोप

पटना वीमेंस कॉलेज में एक महिला पुलिसकर्मी मिठाई का डिब्बा लेकर अंदर जा रही थी। इसके बाद कार्यकर्ताओं ने यहां हंगामा कर दिया। कार्यकर्ताओं का आरोप है कि यह पुलिसकर्मी किसी प्रत्याशी द्वारा दी गई मिठाई को अंदर ले जा रही थीं। इसके बाद यह लोग यहां पटना वीमेंस कॉलेज के बाहर पुलिस प्रशासन हाय-हाय के नारे लगाने लगे।

दहाड़ मारकर रो पड़े दीपांकर

जन अधिकार छात्र परिषद का अध्यक्ष प्रत्याशी दीपांकर कुमार दहाड़ मारकर रो रहे थे। उनका कहना था कि यहां सब कुछ गलत हो रहा है। प्रशासन भी बिक गया है। पुलिस कर्मियों को रसगुल्ला भेजा जा रहा है। यह गलत है। हम गरीब लोग हैं कहां से रसगुल्ले बाटेंगे संघर्ष कर कर चुनाव लड़ने आए हैं।

छात्र संघ चुनाव को लेकर यूनिवर्सिटी में कुल 51 बूथ बनाए गए थे। चुनाव में कुल 306 बैलट बॉक्स का इस्तेमाल किया गया। पटना वीमेंस कॉलेज में छात्रों की लंबी कतारें नजर आई।

पटना वीमेंस कॉलेज में वोटिंग के बाद छात्राएं।

पटना वीमेंस कॉलेज में वोटिंग के बाद छात्राएं।

पटना कॉलेज में वोटिंग के बाद उत्साह में छात्र-छात्राएं।

पटना कॉलेज में वोटिंग के बाद उत्साह में छात्र-छात्राएं।

वोट देने के बाद बाहर निकली छात्राएं।

वोट देने के बाद बाहर निकली छात्राएं।

पटना यूनिवर्सिटी में छात्र संघ चुनाव के लिए पिछले कुछ दिनों से लगातार चुनाव प्रचार किया जा रहा था। उम्मीदवार हाथों से बैनर-पोस्टर बनाकर छात्रों के बीच जा रहे थे और वोट देने की अपील कर रहे थे। आपको बता दें कि इस बार छात्र संघ चुनाव में छात्राओं की अहम भूमिका मानी जा रही। पटना यूनिवर्सिटी में करीब 50 से 55 फीसदी संख्या छात्राओं की है और इसमें पटना वीमेंस और मगध महिला जैसे अहम गर्ल्स कॉलेज हैं।

सभी कॉलेज के वोटर की संख्या

इस बार के चुनाव में सबसे ज्यादा मतदाता पटना वीमेंस कॉलेज से है। पटना वीमेंस कॉलेज में 5355, मगध महिला में 3488, बीएन कॉलेज में 3209 वोटर, पटना कॉलेज में 2452, पीजी सोशल साइंस में 2243, वाणिज्य महाविद्यालय में 2008, पटना साइंस कॉलेज में 1863, पीजी साइंस में 1288, मानविकी में 989 वोटर्स, पीजी कॉमर्स, एजुकेशन और लॉ में कुल 561 वोटर्स, पटना लॉ कॉलेज में 387, कॉलेज ऑफ आर्ट्स एंड क्राफ्ट्स में 221, वीमेंस ट्रेनिंग कॉलेज में 199, पटना ट्रेनिंग कॉलेज में 192 मतदाता हैं। इसके साथ ही सभी कॉलेज को मिला कर इस बार के चुनाव में कुल 24395 वोटर्स हैं।

छात्रसंघ चुनाव से जुड़ी अन्य खबरेंः

पटना आर्ट कॉलेज के ऊपरी तल्ले पर काउंटिंग:ताकि कोई उपद्रवी वहां तक नहीं पहुंच सके; जानिए, इस भवन की खासियत जानिए

पटना यूनिवर्सिटी छात्र संघ चुनाव की काउंटिंग की तैयारी पटना आर्ट कॉलेज में है। यहां आर्ट कॉलेज के ऊपरी तल्ले पर काउंटिंग की व्यवस्था की गई है। यह व्यवस्था ऊपरी तल पर इसलिए की गई है कि कोई उपद्रवी यहां किसी तरह का उत्पात नहीं मचा सकें। जिला प्रशासन और यूनिवर्सिटी के अफसरों के बैठने की व्यवस्था भी ऊपरी तल पर ही की गई है। आर्ट कॉलेज के मुख्य गेट पर ही छात्रों को रोक दिया जाएगा। यहां पुलिस की चाक चौबंद व्यवस्था है। धारा 144 लागू है। पूरी खबर पढ़ने के लिए क्लिक करें।

पटना यूनिवर्सिटी चुनाव में हर साल बढ़ रही वोटिग:28 साल बाद 2012 के चुनाव में हुई 35% वोटिंग, 2019 में बढ़कर 58.58% तक पहुंचा

पटना विश्वविद्यालय में साल 1984 के बाद छात्र संघ के 4 चुनाव हो चुके हैं। 28 साल के बाद 2012 में हुए चुनाव में छात्रों का उत्साह कम था। 2012 में मात्र 35% वोट ही पड़े थे। जैसे-जैसे छात्रों में चुनाव को लेकर समझ बढ़ी, वोटिंग प्रतिशत भी बढ़ता गया। यहां तक कि आखिरी बार साल 2019 में हुए चुनाव में 58.58 फीसदी वोट डाले गए थे। इन चुनावों में पटना वीमैंस कॉलेज और मगध महिला कॉलेज में सबसे ज्यादा वोट पड़ते रहे हैं। वीमैंस कॉलेज टॉप पर रहा है। पूरी रिपोर्ट पढ़ने के लिए यहां क्लिक करिए

खबरें और भी हैं…

Source link

Advertisement

Leave a Reply