Advertisement

Advertisement
पटनाएक घंटा पहले

  • कॉपी लिंक

इन दोनों भाइयों की हत्या का है मामला।

भाजपा के पूर्व विधायक चितरंजन सिंह के दो सगे भाइयों की गोली मारकर की गई हत्या के मामले में पुलिसिया दबाव ने बड़ा काम किया है। डबल मर्डर के इस केस में नामजद एक और आरोपी ने कोर्ट में खुद को सरेंडर कर दिया है। सरेंडर करने वाले आरोपी का नाम अजय सिंह उर्फ मुखिया है। जो पटना में धनरूआ थाना के तहत निमा गांव का रहने वाला है। 31 मई की शाम बाइक सवार अपराधियों ने अरवल के पूर्व विधायक चितरंजन सिंह के भाई शंभू सिंह और गौतम सिंह को गोलियों से भून दिया था।

2 जून को हुई थी गिरफ्तारी

घर जाते वक्त काली मंदिर रोड में इनकी हत्या की गई थी। भतीजे के बयान पर पत्रकार नगर थाना में पांडव गिरोह के सरगना संजय सिंह समेत कुल 6 लोगों के खिलाफ नामजद और अज्ञात 2 शूटरों पर केस दर्ज किया गया था। शुरुआती जांच के दौरान इस कांड में शामिल बबलू सिंह उर्फ हरेंद्र सिंह को पुलिस ने छापेमारी कर उसके गांव से 2 जून को गिरफ्तार किया था। इसके बाद पुलिस की कार्रवाई आगे भी जारी रही।

झारखंड में भी छापेमारी

बिहार से लेकर झारखंड तक लगातार किए गए छापेमारी के बाद मुख्य आरोपी संजय सिंह के भाई रंजय सिंह ने चुपचाप मसौढ़ी कोर्ट में पहुंच कर खुद को सरेंडर कर दिया था। जिसके बाद पूछताछ के लिए पुलिस ने उसे अपने रिमांड पर लिया था। अब इस मामले में फरार चल रहे तीसरे आरोपी पटना के ACJM-8 के कोर्ट में खुद को सरेंडर कर दिया। पटना पुलिस की तरफ से इस बात की पुष्टि की गई है।

डबल मर्डर के इस केस में अब तक तीन आरोपी जेल भेजे जा चुके हैं। पुलिस की मानें तो जल्द ही पूछताछ के लिए अजय सिंह को रिमांड पर लिया जा सकता है। वहीं, फरार चल रहे बाकी के अपराधियों की तलाश में लगातार छापेमारी चल रही है। हालांकि, पुलिस अब तक संजय सिंह और शूटर्स का पता नहीं लगा पाई है।

खबरें और भी हैं…

Source link

Advertisement

Leave a Reply