महेंद्रगढ़ में सरपंचों ने फूंका CM का पुतला: प्रधान बोलीं- सात दिनों से धरने पर बैठे; सरकार उनकी बात नहीं सुन रही

0
34
Advertisement

Advertisement
महेंद्रगढ़15 मिनट पहले

महेंद्रगढ़ में सीएम का पुतला जलाते सरपंच।

हरियाणा के महेंद्रगढ़ के बीडीपीओ कार्यालय में सरपंच एसोसिएशन के बैनर तले सरपंचों ने सरकार के खिलाफ ई-टेंडरिंग और राइट टू रिकॉल के विरोध में धरना दिया। सातवें दिन सोमवार को सरपंचों ने सीएम के पुतले की शव यात्रा निकाली और बीडीपीओ कार्यालय में पुतला दहन किया गया।

सरकार सुनने काे राजी नहीं

सरपंच एसोसिएशन की प्रधान पूजा मंडोला ने बताया कि हमें आज बीडीपीओ कार्यालय में धरना प्रदर्शन करते हुए 7 दिन हो चुके हैं। लेकिन अभी सरकार के कानों पर जूं तक नहीं रेगी। सरकार को जगाने के लिए बीडीपीओ कार्यालय में सीएम मनोहर लाल का पुतला जलाया। उन्होंने बताया कि अगर सरकार अब भी नहीं मानी तो बड़ा आंदोलन किया जाएगा। वहीं उन्होंने खट्टर सरकार, पंचायत मंत्री देवेंद्र बबली व उपमुख्यमंत्री दुष्यंत चौटाला के खिलाफ जमकर नारेबाजी की।

सीएम के पुतले की शव यात्रा निकालते सरपंच।

उन्होंने बताया कि महेंद्रगढ़ ब्लॉक में 64 ग्राम पंचायतें हैं। पिछले सोमवार से सरपंच एसोसिएशन बीडीपीओ कार्यालय महेंद्रगढ़ में धरना व प्रदर्शन कर रही है। महेंद्रगढ़ ब्लॉक के सभी सरपंच सरकार की ई-टेंडरिंग व राइट टू रिकॉल की नीति से बड़े आहत हैं। जब से सरकार ई-टेंडरिंग प्रणाली लागू की है। उससे हम गांवों में विकास कार्य करवाने में असमर्थ हैं।

सरपंचों के अधिकार में हों काम

उन्होंने बताया कि हमारी कुछ मांगे हैं जिसमें ई-टेंडरिंग प्रणाली को बंद किया जाए। राइट टू रिकॉल वापसी लिया जाए। गांवों में जितने भी विकास कार्य हो वह सभी सरपंचों के अधिकार में। पीआरआई का जो पैसा पिछले 2 साल से नहीं डाला गया है। वह ब्याज सहित पंचायतों को दिया जाए। इस अवसर पर काफी संख्या में सरपंच मौजूद रहे।

Source link

Advertisement

Leave a Reply