मोटो ज़ेड प्ले की पहली झलक

0
94
Advertisement

Advertisement
जून में इसी साल लेनोवो ने 2016 के लिेए अपना फ्लैगशिप स्मार्टफोन मोटो ज़ेड लॉन्च किया। मोट मॉड्स के साथ इस फोन को एक नए स्मार्टफोन डिज़ाइन के साथ आता है। अलग से अटैच की जा सकने वाली इन एक्सेसरी से स्मार्टफोन को और ज्यादा फंक्शनल बनाया जा सकता है। निश्चित तौर पर स्मार्टफोन में दिया गया यह कॉन्सेप्ट अब तक का सबसे बेहतर सुधार है।

अब कंपनी ने एक और कदम आगे बढ़ते हुए मोटो ज़ेड का और ज्यादा अफॉर्डेबल वेरिेएंट मोटो ज़ेड प्ले पेश किया है। इस फोन में भी ज़ेड  की तरह ही मॉड्यूलर डिज़ाइन है लेकिन इसके स्पेसिफिकेशन किसी मिड-रेंज स्मार्टफोन जैसे हैं। मोटो ज़ेड प्ले को आईएफए 2016 में पेश किया गया और हमें इसके साथ थोड़ा समय गुज़ारने का मौका मिला।

मॉड्यूलर डिज़ाइन
मोटो ज़ेड प्ले का सबसे बड़ा फ़ीचर है इसका मोटो मॉड के साथ आना। मोटो मॉड एक ऑप्शनल एक्सेसरी है जिसे स्मार्टफोन में अलग से जोड़कर उसे और ज्यादा फंक्शनल बनाया जा सकता है। नया मोटो ज़ेड प्ले भी मोटो मॉड सपोर्ट करता है। कंपनी द्वारा पेश किए मोटो मॉड इन दोनों डिवाइस पर काम करते हैं। लेनोवो ने वादा किया है कि मोटो ज़ेड की आने वाली तीन जेनरेशन के साथ ये मोटो मॉड काम करेंगे।

अभी की बात करें, तो बाजार में चार मोटो मॉड खरीदने के लिए उपलब्ध हैं। इनमें मोटो ज़ेड प्ले के साथ लॉन्च किया गया हैसलब्लेड ट्रू ज़ूम मॉड भी शामिल है। मोटो ज़ेड प्ले में मोटो मॉड को अटैच करना बेहद आसान है और यह बात हमें बेहद पसंद भी आई। आपको फोन को खोलने या कोई भी चीज बदलने की जरूरत नहीं पड़ती। सिर्फ फोन के रियर पर मॉड को टच करें और यह चुंबक की तरह चिपक कर अटैच हो जाएगा।
 

मॉड को फोन से अलग करना भी उतना ही आसान है। इसके लिए आपको सिर्फ एक्सेसरी को खींचना होगा। मॉड की कनेक्टिविटी भी बेहद अच्छी है। हमने जेबीएल साउंडबूस्ट को तब  अटैच किया जब पहले से फोन में म्यूज़िक प्ले हो रहा था और ज़ेड प्ले ने इसे तुरंत डिटेक्ट कर लिया और कुछ ही मिनटों में फोन बिना हमारे कुछ किए उस पर स्विच हो गया। यही बात दूसरे मॉड पर भी लागू होती है और उन्हें भी इसी तरह रियर से जोड़ा व अलग किया जा सकता है।

क्वालकॉम स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर
मोटो ज़ेड और अमेरिका में मिलने वाले मोटो ज़ेड फोर्स में जहां क्वालकॉम का सबसे लेटेस्ट स्नैपड्रैगन 820 प्रोसेसर है। वहीं मोटो ज़ेड प्ले में स्नैपड्रैगन 625 प्रोसेसर दिया गया है। यही प्रोसेसर असूस के ज़ेनफोन 3 सीरीज के फोन में भी है। मोटो ज़ेड प्ले में 3 जीबी रैम, 32 जीबी इंटरनल स्टोरेज (माइक्रोएसडी कार्ड सपोर्ट के साथ) और एंड्रॉयड 6.0.1 मार्शमैलो दिया गया है। हालांकि, हम यह नहीं कह सकते कि यह फोन मोटो ज़ेड की तरह परफॉर्मेंस देगा या नहीं लेकिन निश्चित तौर पर यह बेहद अफॉर्डेबल है।

इस फोन में मोटो ज़ेड से कम रिज़ॉल्यूशन वाला स्क्रीन है। फोन में 5.5 इंच फुल एचडी सुपर एमोलेड स्क्रीन है। इस डेनसिटी पर जहां पिक्सल अलग-अलग नहीं दिखते लेकिन दोनों फोन के स्क्रीन में गौर करने वाला फर्क तो है ही। हालांकि, अगर तुलना को एक तरफ कर दें तो मोटो ज़ेड प्ले में एक अच्छा स्क्रीन है।

16 मेगापिक्सल कैमरा
मोटो ज़ेड प्ले में 16 मेगापिक्सल का रियर व 5 मेगापिक्सल का फ्रंट कैमरा है। दोनों ही कैमरों में फ्लैश दिया गया है। रियर कैमरे में हाइब्रिड ऑटोफोकस और 4के रिज़ॉल्यूशन वीडियो रिकॉर्डिंग तक सपोर्ट मिलता है। कैमरा परफॉर्मेंस काफी हद तक मोटो जी4 प्लस के कैमरे की तरह ही है। जी4 प्लस में भी 16 मेगापिक्सल रियर कैमरा ही है।

इस डिवाइस में 3510 एमएएच की बैटरी है जो मोटो ज़ेड से थोड़ी बड़ी है। मोटोरोला का दावा है कि फोन को 45 घंटे तक मिक्स इस्तेमाल किया जा सकता है लेकिन इस पर हम अपना फैसला पूरी रिव्यू प्रक्रिया होने तक रिज़र्व रखेंगे। फोन के साथ एक टर्बो चार्जर आता है जिसे लेकर कंपनी का दावा है कि15 मिनट में बैटरी को 8 घंटे तक इस्तेमाल के लिए चार्ज किया जा सकता है।

मोटो ज़ेड प्ले नैनो सिम कार्ड सपोर्ट करता है और मोटोरोला ने अभी तक भारत में इसके डुअल सिम वेरिएंट के आने का खुलासा नहीं किया है। हमें उम्मीद है कि भारत में डुअल सिम वेरिएंट मोटो ज़ेड प्ले लॉन्च किया जाएगा। फोन में एक फिंगरप्रिंट सेंसर, एक यूएसबी टाइप-सी पोर्ट, 3.5 एमएम ऑडियो जैक और एक लिक्विड-रेपेलैंट नैनो-कोटिंग दी गई है। हालांकि अभी भारतीय बाजार के लिए इस फोन के स्पेसिफिकेशन का खुलासा नहीं हुआ है। लेकिन इस फोन को 30,000 रुपये से कम में लॉन्च किया जा सकता है। लेनोवो भारत में मोटो ज़ेड के साथ मोटो ज़ेड प्ले व मोटो मॉ़ड और स्टाइल शेल लॉन्च कर सकती है।

Source link

Advertisement

Leave a Reply