सपा नेता की हूटर रैली: SSP ने CO को हटाया, सिविल लाइन थाना प्रभारी समेत 7 निलंबित

0
167
Advertisement

Advertisement

इटावा में सपा नेता धर्मेंद्र यादव समेत 200 समर्थकों के खिलाफ हूटर रैली निकालने पर पुलिस ने केस दर्ज कर लिया है.

Etawah News: इटावा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. ब्रजेश कुमार सिंह ने बताया कि गैंगस्टर सपा नेता धर्मेंद्र यादव ने 5 जून को इटावा जेल से वाहनों के साथ हूटर रैली निकाली.

इटावा. उत्तर प्रदेश के इटावा (Etawah) में समाजवादी पार्टी (Samajwadi Party) के नेता धर्मेंद्र यादव (Dharmendra Yadav) की हूटर रैली निकालने को लेकर पुलिस अमले ने बड़ी कार्यवाही करते हुए सीओ इटावा को पदमुक्त कर दिया है. वहीं 7 पुलिसकर्मियों को तत्काल प्रभाव से निलंबित (Suspend) कर दिया है. इटावा के वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक डॉ. ब्रजेश कुमार सिंह (SSP Dr Brajesh Kumar Singh) ने बताया कि 4 जून को इटावा जेल से रिहा हुये गैंगस्टर सपा नेता धर्मेंद्र यादव ने 5 जून को इटावा जेल के बाहर से भारी संख्या में वाहनों के साथ हूटर रैली निकालने पर इटावा पुलिस ने 8 पुलिस अधिकारी और पुलिसकर्मियों के लिए पदमुक्त/निंलबन की कार्यवाही की है. यह कार्यवाही एसपी सिटी प्रशांत कुमार के रिपोर्ट के आधार पर की गई है.

ममाले में सीओ इटावा राजीव प्रताप सिंह को पुलिस का पर्यवेक्षण में नाकाम रहने पर पद मुक्त कर दिया गया. वहीं एसएसपी ने गैंगस्टर सपा नेता धर्मेंद्र यादव की हूटर रैली के बाद सिविल लाइन थाना प्रभारी निरीक्षक ओम प्रकाश पांडे, स्थानीय अभिसूचना इकाई के प्रभारी निरीक्षक पुनीत कुमार शर्मा, जेल चौकी प्रभारी भानु प्रताप सिंह, बकेवर थाने की महेवा चौकी प्रभारी विष्णु कांत तिवारी, यातायात पुलिस के हेड कांस्टेबल योगेश कुमार, कान्स्टेबल अजय कुमार ओर कांस्टेबल बृजपाल सिंह ट्रैफिक पुलिस को एसपी सिटी की जांच रिपोर्ट के आधार पर तत्काल प्रभाव से निलंबित कर दिया है.

इस पूरे प्रकरण को लेकर रविवार को ही पुलिस ने 34 ऐसे लोगों को पकड़ा है, जो धर्मेंद्र यादव की हूटर रैली में शामिल थे. इसके अलावा 24 गाड़ी भी बरामद की गई हैं. बताया जा रहा है कि कानपुर जोन के आईजी कानपुर की लताड़ के बाद इस कार्यवाही को अंजाम दिया गया. इससे पहले रविवार को केवल जेल चैकी प्रभारी भानु प्रताप सिंह को निलंबित किया गया था. उसके बाद एसएसपी की कार्यशैली पर सवाल खड़े होने लगे थे.

आज जब कानपुर जोन के आईजी ने एसएसपी से इस मसले पर रिपोर्ट तलब की. तब यह बड़ी कार्रवाई अमल में लाई गई है. इटावा की जिला जेल से रिहा हुए समाजवादी पार्टी के नेता धर्मेंद्र यादव को हूटर रैली निकालने पर धर्मेद्र यादव समेत उनके 200 समर्थकों के खिलाफ सिविल लाइन थाने मे धारा 188, 269, 270 सेवेन सीएलए एक्ट और महामारी अधिनियम के तहत मुकदमा दर्ज किया गया.5 जून को घर्मेंद्र यादव के स्वागत सत्कार से जुड़े हुए वीडियो वायरल होने के बाद इटावा से लेकर लखनऊ तक हडंकप मच गया. शुक्रवार शाम को जिला जेल से रिहा हुए घर्मेंद्र यादव ने आज सुबह सैकडो गाडियो को जेल के बाहर बुला करके अपने समर्थको के जरिये बुलाकर जोरदार स्वागत कराया जिसके बीडियो हर ओर वारयल होने के बाद पुलिस और प्रशासन मे हड़कंप मच गया. इटावा से लेकर औरैया सीमा तक के सीसीटीवी कैमरों के वीडियो फुटेज तलाशने में पुलिस की कईयो टीमे जुटी हुई देखी जा रही है.

जेल से रिहा होने के बाद धर्मेंद्र यादव को उनके समर्थकों ने बाकायदा चांदी का मुकुट और गले में माला डाल करके उनका स्वागत सत्कार भी किया. धर्मेंद्र यादव इटावा के पड़ोसी औरैया जिले में समाजवादी युवजन सभा अध्यक्ष है. लेकिन पंचायत चुनाव में उनको भाग्य नगर से जिला पंचायत सदस्य के तौर पर चुनाव मैदान में उतारा गया, जहां करीब 13000 वोटों से उनकी जीत हो गई. लेकिन इससे पहले धर्मेंद्र यादव अपराधिक मामले में गिरफ्तार करके जेल भेज दिए गए थे. धर्मेंद्र यादव के खिलाफ औरैया के जिला प्रशासन ने जिला बदर की भी कार्रवाई करके रखी हुई है. इसके साथ ही धर्मेंद्र यादव के खिलाफ गैंगस्टर एक्ट की भी कार्रवाई हुई है.





Source link

Advertisement

Leave a Reply