हरियाणा के इन जिलों में लगा वीकेंड लॉकडाउन, यहां देखें शहरों का नाम

0
142
Advertisement

Advertisement

नई दिल्ली:

देश में एक बार फिर कोरोना मरीजों की संख्या में लगातार इजाफा हो रहा है. कोरोना के बढ़ते मामलों के बीच हरियाणा की खट्टर सरकार ने राज्य के कई जिलों में वीकेंड लॉकडाउन लगाने का फैसला किया है. अब हरियाणा के 9 जिलों में शुक्रवार शाम 5 बजे से 3 मई को सुबह 5 बजे तक लॉकडाउन रहेगा. इसमें पंचकूला, गुरुग्राम, फरीदाबाद, सोनीपत, रोहतक, करनाल, हिसार, सिरसा और फतेहाबाद जिले शामिल हैं. वहीं, हरियाणा सरकार ने शुक्रवार को 31 मई तक सभी कॉलेजों, कोचिंग और प्रशिक्षण संस्थानों, आईआईटी और पुस्तकालयों को बंद करने की घोषणा की. साथ ही, महिला और बाल विकास विभाग द्वारा चलाए जा रहे सभी आंगनवाड़ी केंद्र और क्रेच इस अवधि के दौरान बंद रहेंगे. आदेश का उल्लंघन करने वाला कोई भी व्यक्ति दंडित होने के लिए उत्तरदायी होगा.

वीआईपी विजिट से रोगी का इलाज प्रभावित ना हो: हरियाणा के मंत्री
 
कोरोनोवायरस रोगियों के उपचार में देरी की आलोचना के कारण मुख्यमंत्री के दौरे की व्यवस्था की समीक्षा करने के लिए, हरियाणा के स्वास्थ्य मंत्री अनिल विज ने कहा कि सभी मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को यह सुनिश्चित किया गया है कि वीआईपी की आवाजाही के दौरान अस्पतालों में कोविड रोगियों का उपचार प्रभावित नहीं होना चाहिए.

विज ने ट्वीट में कहा कि हमारी पहली प्राथमिकता मरीज और उनका उपचार है. मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने गुरुवार को जींद शहर के सिविल अस्पताल का दौरा किया जहां दो मरीजों को इंतजार करना पड़ा क्योंकि पुलिस ने यात्रा के दौरान अस्पताल में प्रवेश प्रतिबंधित कर दिया था. बाद में, मुख्यमंत्री ने भी मुख्य चिकित्सा अधिकारी को निर्देश दिया कि सुरक्षा कारणों से मरीजों परेशानी नहीं होनी चाहिए.
 
गुरुग्राम प्रशासन ने जारी किया ऑक्सीजन सप्लाई के लिए कंट्रोल रूम नंबर

रुग्राम जिला प्रशासन ने जिले के विभिन्न अस्पतालों में ऑक्सीजन सिलेंडर की आपूर्ति के लिए एक कंट्रोल रूम नंबर जारी किया है, जो कि 0124 2971110 है. इस पर कॉल करके आपातकालीन सिलेंडर की आवश्यकता का लाभ उठाया जा सकता है। यह कंट्रोल रूम चौबीसों घंटे काम करेगा.

इस सुविधा के तहत जब भी किसी अस्पताल द्वारा कंट्रोल रूम में कॉल किया जाएगा, तो उस अस्पताल का नाम, ड्राइवर का नाम और मोबाइल नंबर, गाड़ी का नंबर, अस्पताल में ऑक्सीजन का बैकअप कितने समय तक के लिए है, कितने सिलेंडरों की आवश्यकता है इत्यादि सभी जानकारियां कंट्रोल रूम के द्वारा लोगों को दी जाएंगी.

दरअसल, हाल ही में गुरुग्राम के कई अस्पतालों ने ट्वीट कर ऑक्सीजन की तत्काल आपूर्ति कराए जाने की मदद मांगी थी और तभी यह मुद्दा सामने आया था. गुरुग्राम के डिप्टी कमिश्नर यश गर्ग ने कहा है, “हमने अस्पतालों को ऑक्सीजन की आपूर्ति के संबंध में एक आदेश भी जारी किया है. किसी भी अस्पताल को ऑक्सीजन की आवश्यकता होने पर छह घंटे पहले जिला प्रशासन को सूचित करना होगा. निजी अस्पतालों में लिक्विड मेडिकल ऑक्सीजन की मांग भी पूरी की जाएगी. हमने सभी अस्पतालों और नसिर्ंग होम को एक गूगल फॉर्म भरने के लिए कहा है, जो ‘कोविड हरियाणा डॉट इन’ वेबसाइट पर उपलब्ध है.

जिला प्रशासन ने यह स्पष्ट कर दिया है कि केवल उन्हीं अस्पतालों और नर्सिंग होम को ऑक्सीजन प्रदान कराने का प्रयास किया जाएगा, जो इसके साथ पंजीकृत हैं.



संबंधित लेख

Source link

Advertisement

Leave a Reply