हिमाचल में 17 कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत, 596 नए मामले, 7555 रह गए सक्रिय केस

0
160
Advertisement

Advertisement

सार

हिमाचल प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 195755 पहुंच गया है। इनमें से अब तक 184878 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय कोरोना मामले घटकर 7555 रह गए हैं। प्रदेश में अब तक 3299 संक्रमितों की मौत हुई है। 

कोरोना पॉजिटिव(सांकेतिक)
– फोटो : Amar Ujala

ख़बर सुनें

हिमाचल प्रदेश में सोमवार को 17 और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हुई है। शिमला जिले में चार, कांगड़ा चार, सोलन चार, मंडी दो, ऊना एक, बिलासपुर एक और हमीरपुर एक मौत हुई है। उधर, प्रदेश में 596 नए कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। कांगड़ा जिले में 130, मंडी 123, चंबा 82, शिमला 58 , सोलन 32, हमीरपुर 35, बिलासपुर 31, कुल्लू 35, ऊना 30,  किन्नौर 21,  सिरमौर 14 और लाहौल-स्पीति में पांच  नए मामले आए हैं। बीते 24 घंटों के दौरान 1444 लोगों ने कोरोना को मात दी।

अब प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 195755 पहुंच गया है। इनमें से अब तक 184878 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय कोरोना मामले घटकर 7555 रह गए हैं। प्रदेश में अब तक 3299 संक्रमितों की मौत हुई है। बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना की जांच के लिए 18444 लोगों के सैंपल लिए गए। प्रदेश के 11 जिलों में सक्रिय मामले एक हजार से नीचे आए गए हैं। कांगड़ा ही अब एक हजार से अधिक सक्रिय केस है।

किस जिले में कितने सक्रिय मामले
कांगड़ा        1730
शिमला         829
सोलन          569
मंडी             933
चंबा             804
सिरमौर        538
ऊना            584
बिलासपुर     269 
हमीरपुर        626
कुल्लू            371
किन्नौर           226
लाहौल-स्पीति  76

कोरोना पॉजिटिविटी रेट 5.3 प्रतिशत 
प्रदेश में पिछले एक सप्ताह के दौरान राज्य का कोरोना पॉजिटिविटी रेट 5.3 प्रतिशत रहा है जोकि राहत की खबर है। 31 मई से छह जून तक हिमाचल में 1 लाख से ज्यादा सैंपलों की जांच की गई।  इनमें से केवल पांच हजार से ज्यादा ही नए पॉजिटिव मिले हैं। अगर इसी तरह का क्रम जारी रहा तो हिमाचल में सरकार लोगों को और भी छूट दे सकती है। 

हिमाचल प्रदेश सरकार नेरचौक मेडिकल कॉलेज और रिपन अस्पताल में ओपीडी शुरू करने जा रही है। मेडिकल कॉलेज और रिपन अस्पताल में कोविड मरीजों की संख्या कम होने लगी है। ऐसे में इन अस्पतालों में ओपीडी शुरू करने का फैसला लिया गया है। रिपन अस्पताल में आने वाले कोरोना मरीजों को मेकशिफ्ट अस्पताल भेजा जाएगा। हिमाचल में करीब ढाई महीने पहले इन अस्पतालों को कोविड मरीजों के लिए सुरक्षित रखा गया था।

इनमें 400 से ज्यादा कोरोना मरीज भर्ती थे। इनमें भर्ती संक्रमितों की संख्या काफी कम हो गई है। दूसरी ओर, प्रदेश में भी संक्रमण के मामलों में काफी कमी आई है। अब प्रदेश में एक हजार से कम मामले आ रहे हैं। बीते रविवार को यह आंकड़ा 500 से कम रहा। 

प्रदेश में कोरोना मरीज तेजी से ठीक हो रहे हैं। हिमाचल का रिकवरी रेट 95 फीसदी है। संक्रमण दर 7 फीसदी है। यह पांच फीसदी तक आने पर प्रदेश में कर्फ्यू में ढील दी जा सकती है। वहीं, स्वास्थ्य सचिव अमिताभ अवस्थी ने बताया कि नेरचौक मेडिकल कॉलेज और रिपन अस्पताल में ओपीडी शुरू की जा रही है। कोरोना मरीजों का इलाज मेकशिफ्ट अस्पतालों में चलता रहेगा। 

विस्तार

हिमाचल प्रदेश में सोमवार को 17 और कोरोना पॉजिटिव मरीजों की मौत हुई है। शिमला जिले में चार, कांगड़ा चार, सोलन चार, मंडी दो, ऊना एक, बिलासपुर एक और हमीरपुर एक मौत हुई है। उधर, प्रदेश में 596 नए कोरोना पॉजिटिव मामले आए हैं। कांगड़ा जिले में 130, मंडी 123, चंबा 82, शिमला 58 , सोलन 32, हमीरपुर 35, बिलासपुर 31, कुल्लू 35, ऊना 30,  किन्नौर 21,  सिरमौर 14 और लाहौल-स्पीति में पांच  नए मामले आए हैं। बीते 24 घंटों के दौरान 1444 लोगों ने कोरोना को मात दी।

अब प्रदेश में कुल कोरोना संक्रमितों का आंकड़ा 195755 पहुंच गया है। इनमें से अब तक 184878 संक्रमित ठीक हो चुके हैं। सक्रिय कोरोना मामले घटकर 7555 रह गए हैं। प्रदेश में अब तक 3299 संक्रमितों की मौत हुई है। बीते 24 घंटों के दौरान कोरोना की जांच के लिए 18444 लोगों के सैंपल लिए गए। प्रदेश के 11 जिलों में सक्रिय मामले एक हजार से नीचे आए गए हैं। कांगड़ा ही अब एक हजार से अधिक सक्रिय केस है।

किस जिले में कितने सक्रिय मामले

कांगड़ा        1730

शिमला         829

सोलन          569

मंडी             933

चंबा             804

सिरमौर        538

ऊना            584

बिलासपुर     269 

हमीरपुर        626

कुल्लू            371

किन्नौर           226

लाहौल-स्पीति  76

कोरोना पॉजिटिविटी रेट 5.3 प्रतिशत 

प्रदेश में पिछले एक सप्ताह के दौरान राज्य का कोरोना पॉजिटिविटी रेट 5.3 प्रतिशत रहा है जोकि राहत की खबर है। 31 मई से छह जून तक हिमाचल में 1 लाख से ज्यादा सैंपलों की जांच की गई।  इनमें से केवल पांच हजार से ज्यादा ही नए पॉजिटिव मिले हैं। अगर इसी तरह का क्रम जारी रहा तो हिमाचल में सरकार लोगों को और भी छूट दे सकती है। 


आगे पढ़ें

नेरचौक मेडिकल कॉलेज, रिपन अस्पताल में शुरू होगी ओपीडी

Source link

Advertisement

Leave a Reply