Advertisement

Advertisement
भारतीय बाजार के ईवी सेगमेंट में तेजी से ग्रोथ करने वाली कंपनी ओला (OLA) 15 अगस्त को नया सरप्राइज देने को तैयार है। दरअसल, कंपनी की सीईओ भावेश अग्रवाल ने सोशल मीडिया पर एक वीडियो टीजर जारी किया है। टीजर में 15 अगस्त को हाईलाइट किया गया है। एक बड़े से 15 नंबर के अंदर कंपनी ने अपनी ओला रिचार्जेबल बैटरी, स्कटूर को दिखाया है। माना जा रहा है कि कंपनी इस दिन अपनी पहली इलेक्ट्रिक कार से भी पर्दा उठा सकती है। भावेश पहले भी इलेक्ट्रिक कार को लेकर सोशल मीडिया पर पोस्ट कर चुके हैं।

भावेश ने ट्वीट करते हुए लिखा कि 15 अगस्त हम एक नया प्रोडक्ट का अनाउंस करने को लेकर एक्साइटेड हैं। हम अपने बड़े फ्यूचर प्लान को लेकर कई जानकारी शेयर करेंगे। इसका लाइवस्ट्रीम जरूर देखें। हम जल्द ही इसका टाइम और लिंक शेयर करेंगे।

ऐसी होंगी ओला की इलेक्ट्रिक कार

ओला ने बीते दिनों ‘ओला कस्टमर डे’ सेलिब्रेशन के दौरान अपनी अपकमिंग 3 प्रीमियम इलेक्ट्रिक गाड़ियों का टीजर वीडियो जारी किया था। जिसमें एक हैचबैक, एक बड़ी कूपे स्टाइल सेडान और एक कूपे स्टाइल SUV होगी। ओला स्कूटर की तरह कंपनी की आने वाली कारों में फ्यूचरिस्टिक डिजाइन देखने को मिलेगा। टीजर में दिखाई गई गाड़ी में पहली कार में रैपराउंड इफेक्ट वाली हेडलाइट्स हैं। पीछे का हिस्सा फुल-लेंथ टेल-लाइट्स के साथ स्टब्बी बूट जैसा दिखता है। दूसरी कार में फ्रंट लाइट्स के लिए रैपराउंड इफेक्ट है, लेकिन हेडलैम्प्स के लिए ट्विन-यूनिट और स्टाइल वाले फ्रंट बंपर देखने को मिलते है। तीसरी कार में फ्रंट लाइट के लिए सिंगल बार और टेल-लैंप के लिए अलग डिजाइन है।

ये भी पढ़ें- आज ही खरीद लो ये 7 सीटर कार, माइलेज 19kmpl और कीमत 6 लाख से भी कम; अभी 60 हजार का डिस्काउंट

ओला अपनी बैटरी भी तैयार कर रही

>>
ओला इलेक्ट्रिक ने भारत में इलेक्ट्रिक व्हीकल के लिए सेल बनाने के लिए केंद्र की प्रोडक्शन-लिंक्ड इंसेंटिव (PLI) योजना के तहत एक समझौते पर हस्ताक्षर किया है। सॉफ्टबैंक समर्थित ओला ने कहा कि यह भारत सरकार द्वारा अपनी 80,000 करोड़ रुपए की सेल PLI योजना के तहत चुनी गई एकमात्र भारतीय इलेक्ट्रिक मोबिलिटी कंपनी है। ओला इलेक्ट्रिक ने मार्च में अपनी बोली के लिए अधिकतम 20 गीगावाट घंटे (GWH) प्राप्त किए हैं।

>> कंपनी ने हाल ही में बेंगलुरु में बैटरी इनोवेशन सेंटर स्थापित करने के लिए 500 मिलियन डॉलर (करीब 4,000 करोड़ रुपये) के निवेश की घोषणा की है। इस बैटरी आर एंडी सेंटर में डिजाइन के लिए 165 से ज्यादा यूनिक और कटिंग एज लैब इक्यूपमेंट, बैटरी और सेल के लिए टेस्टिंग और डेवलपमेंट इक्यूपमेंट होंगे। ओला के देश में ही बैटरी तैयार करने से उसे अफोर्डेबल इलेक्ट्रिक कार तैयार करने में काफी मदद मिलेगी।

ये भी पढ़ें- लोगों को मारुति की वैगनआर, स्विफ्ट या बलेनो नहीं, बल्कि ये कार ज्यादा पसंद आ रही; आंख बंद करके खरीद रहे

500 इंजीनियरों की भर्ती करेगी

ओला इलेक्ट्रिक बेंगलुरु में अपना बैटरी इनोवेशन सेंटर (BIC) स्थापित करने के लिए करीब 50 करोड़ डॉलर का निवेश कर रही है। इसके अगस्त में चालू होने की उम्मीद है और यह दुनिया के लिए भारत से बाहर कोर सेल तकनीक विकास और बैटरी नवाचार पर ध्यान केंद्रित करेगा। यह बैटरी इनोवेशन सेंटर फ्यूचर की सेल टेक्नोलॉजी डेवलप करने के लिए बैटरी के लिए उन्नत प्रयोगशालाओं और उच्च तकनीक वाले उपकरणों का इस्तेमाल करेगी। कंपनी सेल तकनीक में रिसर्च और डेवलपमेंट के लिए दुनिया भर से शीर्ष प्रतिभाओं की भी भर्ती कर रही है। इसके लिए कंपनी 500 इंजीनियरों की भर्ती करेगी।

Source link

Advertisement

Leave a Reply