BSEB Bihar Board Exam 2023: Bihar Board will check the details of matriculation and intermediate candidates

0
45
Advertisement

Advertisement
ऐप पर पढ़ें
BSEB Bihar Board Exam 2023: मैट्रिक और इंटर परीक्षार्थियों के विवरण की जांच अब बिहार बोर्ड द्वारा की जाएगी। इससे पहले बोर्ड ने सभी स्कूलों को विद्यार्थी के तीन विवरण देने का निर्देश दिया है। इसमें छात्र के नाम, माता-पिता के नाम और जन्मतिथि शामिल है। इसके लिए बोर्ड ने द्वितीय डमी प्रवेश पत्र जारी किया है। अगर किसी छात्र के इन तीन विवरण में त्रुटि है तो उसका साक्ष्य के साथ बोर्ड को उपलब्ध करवाना होगा। इसके लिए स्कूल प्राचार्य को एक दिसंबर तक बोर्ड के पास ई-मेल के माध्यम से दी जाएगी। स्कूल प्राचार्य द्वारा दी जाने वाली जानकारी पर बिहार बोर्ड द्वारा उसकी जांच की जाएगी। किसी भी परिस्थिति में छात्र-छात्रा का नाम, माता-पिता के नाम में पूर्ण परिवर्तन नहीं किया जाएगा। 

वहीं, बोर्ड द्वारा द्वितीय डमी प्रवेश पत्र पर अन्य प्रकार की त्रुटियों यानी लिंग, जाति, दिव्यांगता, धर्म, फोटो, हस्ताक्षर, विषय, राष्ट्रीयता, आधार संख्या, कोटि आदि में सुधार स्कूल प्रशासन या विद्यार्थियों द्वारा स्वयं किया जा सकता है। बोर्ड की मानें तो द्वितीय डमी प्रवेश में अगर त्रुटि सुधार नहीं होता है तो इसकी पूरी जिम्मेवारी संबंधित स्कूलों की होगी। वहीं, बोर्ड ने उन छात्रों को शुल्क जमा करने का मौका भी एक दिसंबर तक दिया है, जिन्होंने रजिस्ट्रेशन फॉर्म और परीक्षा फॉर्म तो भरा है लेकिन शुल्क अभी तक जमा नहीं किया गया। किसी तरह की परेशानी होने पर बोर्ड द्वारा 0612-2230039 हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया गया है।

पकड़ में आएगी गड़बड़ी तो होगी कार्रवाई

कई स्कूलों द्वारा रजिस्ट्रेशन फॉर्म और परीक्षा फॉर्म भरने में छात्रों के नाम, माता-पिता के नाम आदि में गड़बड़ी की गयी है। छात्रों द्वारा अंग्रेजी के अल्फाबेट यानी ए, बी, सी, डी, ई आदि को नाम के कॉलम में लिख कर फॉर्म भर दिया गया था। इसको लेकर बोर्ड ने पत्र जारी कर डीईओ को जानकारी दी थी। अब डमी प्रवेश पत्र में त्रुटि सुधार में स्कूलों द्वारा नाम सही किया गया है। इसको लेकर अब बोर्ड ने स्कूलों से छात्रों का साक्ष्य देने को कहा है।

Source link

Advertisement

Leave a Reply