Hardik Pandya following in the footsteps of MS Dhoni Said I want more batters to chip in with the ball IND vs NZ

0
33
Advertisement

Advertisement
ऐप पर पढ़ें
भारतीय पूर्व कप्तान महेंद्र सिंह धोनी अपनी टीम में 5 मुख्य गेंदबाजों के अलावा दो-तीन अतिरिक्त गेंदबाजी विकल्प लेकर चलते थे। पार्ट टाइम गेंदबाजों से विकेट निकलवाना उनकी कप्तानी का तुरुप का इक्का कहा जाता था। धोनी के लिए अधिकतर समय ये काम युवराज सिंह और सुरेश रैना जैसे गेंदबाज किया करते थे। वहीं माही अन्य गेंदबाजों से भी कुछ ओवर ले लिया करते थे। मगर पिछले कुछ समय से देखने को मिला है टीम इंडिया 5 या ये मुख्य गेंदबाजी विकल्प के साथ ही मैदान पर उतरती है जिससे टीम इंडिया को कई बार खामियाजा भुगतना पड़ता है। मगर हार्दिक पांड्या की सोच कुछ अलग है। न्यूजीलैंड के खिलाफ दूसरे टी20 के दौरान उन्होंने खुद को गेंदबाजी विकल्स से बाहर रखते हुए 6 गेंदबाजों का इस्तेमाल किया। हार्दिक के 6ठें गेंदबाज दीपक हुड्डा थे जिन्होंने 2.5 ओवर गेंदबाजी कर सबसे अधिक 4 विकेट निकाले। मैच के बाद हार्दिक ने कहा कि वह अन्य बल्लेबाजों से भी गेंदबाजी में योगदान की उम्मीद करते हैं।

NZ vs IND: श्रेयस अय्यर इस बदकिस्मत खिलाड़ियों की लिस्ट में हुए शामिल, हार्दिक पांड्या और केएल राहुल भी हैं मौजूद

पंड्या ने मैच के बाद कहा, ”इससे बेहतर कुछ नहीं हो सकता। सभी ने योगदान दिया लेकिन यह निश्चित रूप से सूर्या की एक विशेष पारी थी। हम 170-175 रन के स्कोर में भी खुश रहते। गेंदबाजों ने अच्छा प्रदर्शन किया और यह मानसिकता में आक्रामक होने के बारे में था। इसका मतलब हर गेंद पर विकेट लेना नहीं है लेकिन गेंद के साथ आक्रामक होना महत्वपूर्ण है। मैदान काफी गीला था इसलिए गेंदबाजों को श्रेय जाता है। मैंने काफी गेंदबाजी की है, भविष्य में मैं और अधिक गेंदबाजी विकल्प देखना चाहता हूं। ऐसा नहीं है कि यह हमेशा काम करेगा लेकिन मैं चाहता हूं कि अधिक बल्लेबाज गेंद से योगदान दें।”

IND vs NZ 2nd T20I: सूर्यकुमार यादव को अगर तोड़ना है मोहम्मद रिजवान का वर्ल्ड रिकॉर्ड, तो गेल की तरह खेलनी होगी अविश्वसनीय पारी

अनिल कुंबले और माइकल वॉन जैसे पूर्व खिलाड़ियों ने टी20 विश्व कप से बाहर होने के बाद भारतीय टीम में गेंदबाजी विकल्पों की कमी की ओर इशारा किया था और टीम में अधिक बल्लेबाजी ऑलराउंडर शामिल करने की वकालत की। रोहित शर्मा की गैरमौजूदगी में टीम की कप्तानी कर रहे पंड्या ने कहा कि बतौर कप्तान उनका काम टीम को ड्रेसिंग रूम में सही माहौल देना है।

तूफानी शतक को विराट कोहली ने बताया ‘वीडियो गेम’ तो सूर्यकुमार यादव ने दिया ये रिएक्शन

उन्होंने कहा, ”मैं उनसे पेशेवर होने की उम्मीद करता हूं, जो वे हैं। उन्हें अपने खेल का आनंद लेने का मौका दें। यह एक ऐसा माहौल बनाने के बारे में है जहां वे सभी एक खुशहाल जगह पर हों। मैं इस टीम में कई बार देखता हूं कि सभी खिलाड़ी एक-दूसरे की सफलता से खुश होते हैं और यह महत्वपूर्ण है।”

 

Source link

Advertisement

Leave a Reply