Advertisement

Advertisement
देश की राजधानी दिल्ली में पेट्रोल की कीमतें 105 रुपए प्रति लीटर से भी ज्यादा हो चुकी हैं। वहीं, देश के अलग-अलग राज्यों में इसकी कीमत 120 रुपए प्रति लीटर तक पहुंच चुकी है। पेट्रोल की बढ़ती कीमतों के बीच कार चलाना तो महंगा हुआ ही है, टू-व्हीलर के लिए ज्यादा पैसे खर्च करने पड़ रहे हैं। ऐसे में आपको पास स्कूटर हुआ तो मुश्किलें और भी बढ़ जाती हैं, क्योंकि एक्टिवा, जुपिटर, मेस्ट्रो जैसे तमाम स्कूटर का माइलेज 40 से 45Km/l के करीब होता है। अब आपसे कहा जाए कि इसी स्कूटर को चलाने का खर्च प्रति किलोमीटर महज 70 पैसे होगा, तब शायद आप यकीन न करें। इस खबर में हम आपको स्कूटर का माइलेज बढ़ाने का तरीका बता रहे हैं।

स्कूटर में लगवानी होगी CNG किट

आपके पास होंडा एक्टिवा, TVS जुपिटर, हीरो मेस्ट्रो, सुजुकी एक्सेस या फिर कोई दूसरा स्कूटर हो। इनका माइलेज बढ़ाने के लिए CNG किट लगवानी होगी। दिल्ली स्थित CNG किट मेकर कंपनी LOVATO ने इस स्कूटर में इस किट को लगवा सकते हैं। इसका खर्च करीब 18 हजार रुपए है। कंपनी का दावा है कि इस खर्च को आप 1 साल से भी कम समय में निकाल लेंगे, क्योंकि CNG और पेट्रोल की कीमत में अभी 40 रुपए तक का अंतर आ चुका है।

ये भी पढ़ें- लॉन्चिंग से पहले न्यू स्कॉर्पियो का एक्सटीरियर भी लीक हुआ, इंटीरियर पहले ही आ चुका सामने; देखें फोटोज

स्कूटर पेट्रोल और CNG दोनों से चलेगा

स्कूटर में CNG किट इन्स्टॉल करने में करीब 4 घंटे का वक्त लगता है, लेकिन इसे पेट्रोल से भी दौड़ाया जा सकता है। इसके लिए कंपनी एक स्विच लगाती है जिससे से CNG मोड से पेट्रोल मोड पर आ जाता है। कंपनी इसमें आगे की तरफ दो सिलेंडर लगाती है जिसे ब्लैक प्लास्टिक से कवर कर दिया जाता है। वहीं, सीट के नीचे वाले हिस्से में इसे ऑपरेट करने वाली मशीन फिट हो जाती है। यानी एक्टिवा को CNG और पेट्रोल दोनों से दौड़ाया जा सकता है। एक्टिवा पर CNG से जुड़ी कुछ ग्राफिक्स भी लगा दी जाती हैं।

संबंधित खबरें

ये भी पढ़ें- टाटा की इस कार के सामने मारुति, हुंडई समेत 7 कंपनियों की SUV फेल, आप भी देखें बिक्री का रिपोर्ट कार्ड

CNG किट लगवाने का नुकसान भी

CNG किट लगाने के कुछ नुकसान भी है। पहला ये कि इस किट में जो सिलेंडर लगाया जाता है वो सिर्फ 1.2 किलोग्राम CNG को स्टोरेज करता है। ऐसे में जब 120 से 130 किलोमीटर के बाद आपको फिर से CNG की जरूरत होगी। वहीं, CNG स्टेशन आसानी से नहीं मिलते। हो सकता है कि आपकी लोकेशन से ये 10-15 या ज्यादा किलोमीटर की दूरी पर हो। CNG से भले ही स्कूटर का माइलेज बढ़ जाएगा, लेकिन इससे गाड़ी को पिकअप नहीं मिलता। ऐसे में चढ़ाई वाले रास्ते पर इससे गाड़ी के इंजन पर लोड पड़ेगा।

नोट: स्कूटर में CNG किट लगाने के लिए अब कई कंपनियां बाजार में आ चुकी हैं। ये CNG किट पर वारंटी भी देती है। इसकी खर्च आपके शहर के हिसाब से अलग-अलग हो सकता है।

Source link

Advertisement

Leave a Reply