How To Make Career In Automobile Sector Know What You Have To Study To Make A Car

0
26
Advertisement

Advertisement

Career in Automobile Sector: कार खरीदने का सपना सभी देखते हैं. लेकिन कार बनाने का सपना शायद कुछ ही लोग देखते हैं. भारत की सड़कों पर हर रोज कार की संख्या बढ़ रही है, रिपोर्ट्स की मानें तो आने वाले समय में इनकी तादाद और बढ़ेगी. ऐसे में इस क्षेत्र में रोजगार भी बढ़ेगा. तो क्यों ना आप ऐसी पढ़ाई करें कि भविष्य में आपको दुनिया की टॉप कार बनाने वाली ऑटोमोबाइल कंपनियों में नौकरी मिल जाए. आज इस आर्टिकल में हम आपको ऐसे ही कुछ कोर्स के बारे में बताएंगे, जिन्हें करने के बाद आप किसी भी ऑटोमोबाइल कंपनी में एक अच्छी नौकरी कर सकते हैं. 

ऑटोमोबाइल इंजीनियरिंग

जब आप बीटेक में एडमिशन लेने जाते हैं, तो आपको स्पेशलाइजेशन चुनने को कहा जाता है. ज्यादातर बच्चे या तों कंप्यूटर साइंस चुनते हैं, या फिर इलेक्ट्रिकल और मैकेनिकल. अगर आप भविष्य में किसी कार बनाने वाली कंपनी में नौकरी करना चाहते हैं तो आपको ऑटोमोबाइल स्पेशलाइजेशन के साथ अपना बीटेक पूरा करना चाहिए. हालांकि, कई बार आप जिस कॉलेज से पढ़ रहे होते हैं उसमें ऑटोमोबाइल की स्पेशलाइजेशन नहीं होती. ऐसे में अगर आपके पास कॉलेज बदलने का ऑप्शन ना हो, तो आप अपनी आगे की पढ़ाई यानी एमटेक ऐसे कॉलेज से कर सकते हैं जहां ऑटोमोबाइल स्पेशलाइजेशन हो.

ITI करके भी कर सकते हैं नौकरी

News Reels


जरूरी नहीं है कि आपने ऑटोमोबाइल से इंजीनियरिंग की हो तब ही आपको कार बनाने वाली कंपनियों में नौकरी मिलेगी. अगर आपने किसी अच्छे कॉलेज से आईटीआई भी की है तो भी आपको कार बनाने वाली कंपनी में नौकरी मिल सकती है. हालांकि, यह नौकरी इंजीनियर से नीचे पद की होती है, लेकिन सैलरी इसमें भी अच्छी खासी मिलती है. देश में कई ऐसे आईटीआई कॉलेज हैं, जहां यह ऑटोमोबाइल कंपनियां हर साल प्लेसमेंट के लिए जाती हैं. इसलिए आईटीआई में एडमिशन लेते समय इस बात को जरूर सुनिश्चित करें कि आप उसी कॉलेज में पढ़ें जहां सालाना ऐसी कंपनियां बच्चों को नौकरी देने के लिए आती हों.

कार डिजाइनिंग का कोर्स

कार बनाने का मतलब सिर्फ यह नहीं होता कि आप उसके ढांचे को असेंबल करें या फिर उसके छोटे-छोटे पार्ट्स को बनाएं. असलियत में देखें तो कार वही लोग बनाते हैं जो उसे डिजाइन करते हैं. आप सड़कों पर दौड़ती जिन कारों को देख रहे हैं उन्हें किसी डिज़ाइनर ने डिजाइन किया है, यहां तक की उनमें लगने वाले तमाम पार्ट्स को भी एक डिजाइनर पहले डिजाइन करता है, उसके बाद कंपनियों में वह तैयार होता है फिर असेंबल होकर एक पूरी कार का स्वरूप लेता है. कार डिजाइनिंग के लिए आप चाहें तो डिप्लोमा कोर्स भी कर सकते हैं. या फिर अपने बीटेक और एमटेक प्रोग्राम में भी इसे सीख सकते हैं.

ये भी पढ़ें: केसर की खेती कौन-कौन कर कर सकता है, इसका पौधा कैसा होता है और ये कैसे बनता है

Education Loan Information:
Calculate Education Loan EMI

Source link

Advertisement

Leave a Reply