Advertisement

Advertisement
ख़बर सुनें

राज्य लोक सेवा आयोग को इस सप्ताह नया अध्यक्ष मिलेगा। 62 वर्ष की आयु पूरी होने पर छह अगस्त को वर्तमान अध्यक्ष अजय कुमार सेवानिवृत्त होंगे। आरएसएस और भाजपा से जुड़े कई शिक्षाविद अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हैं। आयोग की वर्तमान में वरिष्ठतम और एकमात्र सदस्य डॉ. रचना गुप्ता को भी अध्यक्ष बनाने की अटकलें हैं। जयराम सरकार ने 22 मार्च, 2021 को अधिसूचना जारी कर पूर्व पीसीसीएफ अजय कुमार को अध्यक्ष और बिजली बोर्ड के पूर्व प्रबंध निदेशक जेपी काल्टा को सदस्य नियुक्त किया था।अध्यक्ष अजय कुमार सात अगस्त, 2022 को 62 वर्ष की आयु पूरी करने पर सेवानिवृत्त होंगे। सात अगस्त को रविवार है, ऐसे में छह अगस्त को उनकी सेवानिवृत्ति होगी। जेपी काल्टा कुछ माह पहले बतौर सदस्य सेवानिवृत्त हो चुके हैं। ऐसे में प्रदेश की भाजपा सरकार के लिए वर्ष 2022 के बाद भी आगामी छह वर्षों के लिए अपने अध्यक्ष और सदस्यों को नियुक्त करने का मौका मिल गया है।

लोकसेवा आयोग में अधिकतम छह वर्ष या 62 वर्ष की आयु पूरी करने तक अध्यक्ष और सदस्यों का कार्यकाल तय किया गया है। बीते कुछ माह में सरकार के कई वरिष्ठ अधिकारी सेवानिवृत्त हुए हैं। इन अधिकारियों ने अध्यक्ष पद की कुर्सी के लिए कदमताल शुरू कर दिया है। सूत्र बताते हैं कि सेवानिवृत्त अधिकारी को शायद ही सरकार लोक सेवा आयोग में अध्यक्ष पद देकर नवाजे।

सेवानिवृत्त अधिकारियों के पास इस पद पर कार्य करने के लिए सिर्फ एक से डेढ़ साल का समय बचा है। ऐसे में सरकार ऐसे व्यक्ति को इस पद पर बैठा सकती तो जो छह वर्ष के अधिकतम कार्यकाल को पूरा करने के लिए योग्य है। आरएसएस और एबीवीपी से जुड़े कुछ ऐसे चेहरे हैं, जिन्होंने सरकार के पास इस तर्क का हवाला देकर लॉबिंग भी शुरू कर दी है।

विस्तार

राज्य लोक सेवा आयोग को इस सप्ताह नया अध्यक्ष मिलेगा। 62 वर्ष की आयु पूरी होने पर छह अगस्त को वर्तमान अध्यक्ष अजय कुमार सेवानिवृत्त होंगे। आरएसएस और भाजपा से जुड़े कई शिक्षाविद अध्यक्ष पद की दौड़ में शामिल हैं। आयोग की वर्तमान में वरिष्ठतम और एकमात्र सदस्य डॉ. रचना गुप्ता को भी अध्यक्ष बनाने की अटकलें हैं। जयराम सरकार ने 22 मार्च, 2021 को अधिसूचना जारी कर पूर्व पीसीसीएफ अजय कुमार को अध्यक्ष और बिजली बोर्ड के पूर्व प्रबंध निदेशक जेपी काल्टा को सदस्य नियुक्त किया था।

अध्यक्ष अजय कुमार सात अगस्त, 2022 को 62 वर्ष की आयु पूरी करने पर सेवानिवृत्त होंगे। सात अगस्त को रविवार है, ऐसे में छह अगस्त को उनकी सेवानिवृत्ति होगी। जेपी काल्टा कुछ माह पहले बतौर सदस्य सेवानिवृत्त हो चुके हैं। ऐसे में प्रदेश की भाजपा सरकार के लिए वर्ष 2022 के बाद भी आगामी छह वर्षों के लिए अपने अध्यक्ष और सदस्यों को नियुक्त करने का मौका मिल गया है।

लोकसेवा आयोग में अधिकतम छह वर्ष या 62 वर्ष की आयु पूरी करने तक अध्यक्ष और सदस्यों का कार्यकाल तय किया गया है। बीते कुछ माह में सरकार के कई वरिष्ठ अधिकारी सेवानिवृत्त हुए हैं। इन अधिकारियों ने अध्यक्ष पद की कुर्सी के लिए कदमताल शुरू कर दिया है। सूत्र बताते हैं कि सेवानिवृत्त अधिकारी को शायद ही सरकार लोक सेवा आयोग में अध्यक्ष पद देकर नवाजे।

सेवानिवृत्त अधिकारियों के पास इस पद पर कार्य करने के लिए सिर्फ एक से डेढ़ साल का समय बचा है। ऐसे में सरकार ऐसे व्यक्ति को इस पद पर बैठा सकती तो जो छह वर्ष के अधिकतम कार्यकाल को पूरा करने के लिए योग्य है। आरएसएस और एबीवीपी से जुड़े कुछ ऐसे चेहरे हैं, जिन्होंने सरकार के पास इस तर्क का हवाला देकर लॉबिंग भी शुरू कर दी है।

Source link

Advertisement

Leave a Reply