I am not a criminal banning someone for life is bit harsh says David Warner on captaincy saga – पर्मानेंट कैप्टेंसी बैन पर आखिरकार बोले डेविड वॉर्नर, कहा

0
26
Advertisement

Advertisement
ऐप पर पढ़ें
ऑस्ट्रेलिया के बल्लेबाज डेविड वॉर्नर ने अपनी निराशा व्यक्त की कि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने उन्हें अपने आजीवन नेतृत्व प्रतिबंध की समीक्षा के लिए आवेदन करने की अनुमति देने में कितना समय लिया। सोमवार को क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया (सीए) ने घोषणा की कि उन्होंने खिलाड़ियों और खिलाड़ियों के सपोर्ट स्टाफ के लिए उनके आचार संहिता में संशोधन के बाद खिलाड़ियों और अधिकारियों के लिए दीर्घकालिक प्रतिबंधों को संशोधित करने के लिए दरवाजा खोल दिया है।

अक्टूबर में हुई क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया की बोर्ड की बैठक में एक अनुरोध के बाद सोमवार को इस कदम की घोषणा की गई, जिसका अर्थ है कि खिलाड़ी और अधिकारी अब तीन व्यक्ति समीक्षा पैनल द्वारा अपने प्रतिबंधों की सुनवाई करा सकते हैं। पुराने नियमों के तहत खिलाड़ियों को अपने बैन की समीक्षा कराने का अधिकार नहीं था, लेकिन नए नियम के तहत ऐसा संभव होगा, यदि वे साबित कर पाते हैं कि उन्होंने पश्चाताप दिखाया है और उनका व्यवहार बदल गया है।

क्रिकइंफो द्वारा पूछे गए एक सवाल के जवाब में डेविड वॉर्नर ने कहा, “मैं अपराधी नहीं हूं। आपको किसी न किसी स्तर पर अपील का अधिकार मिलना चाहिए। मैं समझता हूं कि उन्होंने प्रतिबंध लगा दिया है, लेकिन किसी पर आजीवन प्रतिबंध लगाना, मुझे लगता है कि यह थोड़ा कठोर है।” ऑस्ट्रेलिया की व्हाइट बॉल टीम को कप्तान की जरूरत है, लेकिन मैनेजमेंट ने एक बार भी डेविड वॉर्नर की तरफ नहीं सोचा था, क्योंकि उनको पर्मानेंट कैप्टेंसी बैन झेलना पड़ा है। 

उन्होंने आगे कहा, “यह निराशाजनक रहा है, क्योंकि इसे यहां तक पहुंचने में इतना समय लगा है। मुझे लगता है कि इस साल फरवरी में इसे लाया गया था, लेकिन अब अपनाया गया है। यह मेरे और मेरे परिवार और इसमें शामिल सभी लोगों के लिए दुख भरा है। हमें उस बारे में बात करने और सोचने की आवश्यकता नहीं है। हमें जो हुआ उसे फिर से जीने की जरूरत नहीं है। यह निराशाजनक है, क्योंकि हम इसे लगभग नौ महीने पहले कर सकते थे, जब इसे पहली बार लाया गया था।” 

निकोलस पूरन ने क्यों छोड़ी वेस्टइंडीज टीम की कप्तानी, बताई असली वजह

लेफ्टी ओपनर ने आगे कहा, “यह दुर्भाग्यपूर्ण है कि जाहिर तौर पर फिंची (आरोन फिंच) रिटायर हो गए और फिर उन्होंने इसे अपने तरीके से तेजी से ट्रैक किया, लेकिन यह थोड़ा निराशाजनक है कि जब आप 2018 में कोई निर्णय लेते हैं, तो यह चार दिनों में हो जाता है और फिर इस सही करने के लिए नियम बनाते हैं और इसे लागू करने में नौ महीने लग जाते हैं। यह सबसे कठिन काम है। यह वास्तव में मुझे ऐसा दिखता है जैसे मैं चुनाव प्रचार कर रहा हूं, लेकिन ऐसा बिल्कुल नहीं है।”  

Source link

Advertisement

Leave a Reply