Advertisement

Advertisement
नई दिल्ली: इतना भी गुमान ना कर अपनी जीत पे ऐ बेखबर, शहर में तेरी जीत से ज्यादा चर्चे तो मेरी हार के हैं… किसी अज्ञात शायर की ये लाइंस मोहित शर्मा पर एकदम फिट बैठती हैं। चेन्नई सुपरकिंग्स भले ही सोमवार रात पांचवीं बार आईपीएल खिताब जीतने में कामयाब रही, लेकिन गुजरात टाइटंस के तेज गेंदबाज मोहित शर्मा ने मैच लगभग गुजरात टाइटंस के पाले में झुका ही दिया था। फाइनल मुकाबले में मोहित ने तीन ओवर में 36 रन देते हुए तीन विकेट चटकाए, जिसमें दो शिकार तो एक ही ओवर में लगातार दो बॉल पर किया। 34 साल की उम्र में उन्होंने जैसे प्रदर्शन किया है वह भारतीय टी-20 टीम में वापसी के प्रबल दावेदार हैं।

14 मैच में झटके 27 विकेट

चेन्नई सुपरकिंग्स (सीएसके) के खिताब जीतने के तुरंत बाद हार्दिक पंड्या ने मोहित को गले लगाकर सांत्वना दी, जिससे गुजरात टाइटंस के कप्तान की संवेदना साफ दिखती है, जिससे दिखा कि उन्होंने हरियाणा के इस तेज गेंदबाज के इस सत्र में उनके अभियान में योगदान को स्वीकार किया। मोहित 15वें ओवर में पहली चार शानदार गेंद डालने के बाद अंतिम दो गेंद अच्छी नहीं फेंक सके, लेकिन इस सत्र में उनके प्रयासों को कमतर नहीं आंक सकता। उन्होंने 14 मैचों में 27 विकेट झटके जिससे वह टीम के साथी और मित्र मोहम्मद शमी के बाद दूसरे स्थान पर रहे।

2015 में खेला था आखिरी इंटरनेशनल मैच

भारत के लिए 2015 विश्व कप सेमीफाइनल में खेलने के बाद मोहित लगभग गुम ही हो गए थे, लेकिन आठ साल बाद इस अनुभवी खिलाड़ी ने शानदार वापसी की। हालांकि कोई उन्हें फिर से 50 ओवर के क्रिकेट में खेलते हुए नहीं देख रहा है, लेकिन क्या वह अपनी फॉर्म और फिटनेस बरकरार रख सकते हैं ताकि 2024 टी-20 विश्व कप की टीम में जगह बना सकें। आईसीसी का यह टूर्नामेंट अगले आईपीएल के तुरंत बाद वेस्टइंडीज और अमेरिका में खेला जाएगा, लेकिन मोहित ने निश्चित रूप से खुद को अगले कुछ टी-20 में आजमाने के लिए मजबूत दावा पेश किया है।

IPL 2023 Final: रविंद्र जडेजा ने लगाया जीत का चौका, पांचवीं बार चैंपियन बना सीएसके, फाइनल में चूक गई गुजरात


टीम इंडिया में हो सकती है वापसी

अगर मोहित जुलाई में वेस्टइंडीज और अमेरिका में भारत की पांच मैचों की टी-20 श्रृंखला में दीपक चाहर के साथ खेलते हुए नजर आयेंगे तो यह हैरानी की बात नहीं होगी। हार्दिक भी मोहित से सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कराने में सफल रहे और वह भी इस तेज गेंदबाज को उच्च स्तर पर एक मौका देना चाहेंगे। मोहित सीएसके में महेंद्र सिंह धोनी के नेतृत्व में खेलने के बाद 10 साल पहले भारतीय टीम में पहुंचे थे। मोहित ने पिछले महीने टाइटंस के लिए अपना पदार्पण करने के तुरंत बाद कहा था, ‘मैंने आईपीएल और भारतीय टीम के साथ करियर का सबसे ज्यादा हिस्सा माही भाई की अगुआई में खेला है। उनके नेतृत्व में ही मैंने अच्छे नतीजे हासिल किए हैं इसलिए मेरा सर्वश्रेष्ठ निकालने का बड़ा श्रेय उन्हें ही जाता है।

MS Dhoni: यह सही समय है कि मैं संन्‍यास लूं, IPL चैंपियन बनने के बाद धोनी का सबसे बड़ा बयान

Source link

Advertisement