Maharashtra Police s response to Shraddha Walker s complaint five big news of this evening – India Hindi News

0
60
Advertisement

Advertisement
प्रधानमंत्री नरेंद्री मोदी ने ‘आदिवासी’ दांव चल कांग्रेस, और आम आदमी पार्टी-आप पर जमकर प्रहार किया। कहा कि कांग्रेस ने कभी भी आदिवासी समूह के विकास के लिए कुछ भी नहीं किया गया। भाजपा द्वारा आदिवासी महिला को राष्ट्रपति पद के लिए खड़ा करने पर कांग्रेस ने जमकर विरोध किया था। पीएम मोदी का कहना था कि आदिवासी महिला को देश के सर्वोच्च पद पर तैनात करने वाली बीजेपी पहली पार्टी है। आदिवासी बहन के राष्ट्रपति बनने पर कांग्रेसियों की बेचैनी भी बढ़ गई थी। कांग्रेस की संस्कृति में देश ही नहीं, बल्कि किसी भी जाति या समूह के विकास के बारे में नहीं सोचा जाता है, और कांग्रेसी सिर्फ अपने बारे में सोचते हैं।  बुधवार को गुजरात के दाहोद पर एक चुनावी सभा को संबोधित करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि भाजपा की डबल इंजन सरकार ने समाज के हर वर्ग के लिए कल्याणकारी योजनाओं की शुरुआत की है। पढ़ें आज शाम की पांच बड़ी खबरें-

BJP को हराने के लिए बने गठबंधन में नहीं होना शामिल, केजरीवाल ने किया ऐलान

दिल्ली के मुख्यमंत्री और आम आदमी पार्टी (आप) के संयोजक अरविंद केजरीवाल ने कहा है कि वह कि भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) को हराने के मकसद से बने किसी गठबंधन का हिस्सा नहीं बनेंगे। गुजरात और एमसीडी चुनाव के बीच केजरीवाल ने कहा कि वह किसी ऐसे गठबंधन का ही हिस्सा बनेंगे जो देश को आगे ले जाने के लिए हो। एक टीवी इंटरव्यू में दिल्ली के सीएम ने कहा कि जनतंत्र में किसी पार्टी को हरवाने और जितवाने का काम जनता का है।  केजरीवाल ने 2024 में विपक्षी गठबंधन में शामिल होने या चेहरा बनने को लेकर पूछे गए एक सवाल के जवाब में कहा, ”मैं इस गठजोड़ और गठबंधन की राजनीति को नहीं समझता। जैसा कि मैंने कहा कि मैं इस देश की उम्मीद बनना चाहता हूं। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

कैसे हुई चुनाव आयुक्त अरुण गोयल की नियुक्ति, केंद्र से सुप्रीम कोर्ट ने पूछा

चुनाव आयुक्त अरुण गोयल की नियुक्ति वाली फाइल को सुप्रीम कोर्ट ने मांगा है। अदालत ने केंद्र सरकार को आदेश दिया है कि वह गुरुवार को अरुण गोयल की नियुक्ति प्रक्रिया वाली फाइल को सौंपे। शीर्ष अदालत का यह आदेश ऐसे समय में आया है, जब चुनाव आयुक्तों की नियुक्ति पर सवाल खड़े करने वाली अर्जियों पर वह सुनवाई कर रहा है। अदालत ने चुनाव आयुक्तों की नियुक्ति की प्रक्रिया पर सवाल खड़ा किया था। जस्टिस केएम जोसेफ की बेंच ने कहा था कि आखिर जो चुनाव आयुक्त सरकार के द्वारा ही बना हो, वह कैसे पीएम के खिलाफ ऐक्शन ले सकता है? इसके साथ ही बेंच ने चुनाव आयुक्तों की नियुक्ति के लिए कॉलेजियम जैसी व्यवस्था बनाए जाने का भी सुझाव दिया था। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

श्रद्धा की शिकायत पर क्यों नहीं हुई कार्रवाई? महाराष्ट्र पुलिस ने बताई सच्चाई

श्रद्धा वॉकर की ओर से साल 2020 में दर्ज कराई गई शिकायत पर कार्रवाई क्यों नहीं हुई, इस पर महाराष्ट्र पुलिस की प्रतिक्रिया सामने आई है। महाराष्ट्र की पालघर पुलिस ने कहा है कि साल 2020 में जब श्रद्धा वॉकर ने शिकायत दर्ज कराई थी तो मामले की जांच शुरू की गई थी, लेकिन शिकायत वापस लेने के लिए लिखित बयान देने के बाद केस को बंद कर दिया गया था। शिकायत के बाद कार्रवाई को लेकर मामला तुल पकड़ते देख मीरा भायंदर-वसई विरार कमिश्नरेट के डीसीपी सुहास बावाचे ने कहा है कि श्रद्धा ने शिकायत दर्ज कराने के बाद अपने लिखित बयान में कहा था कि उनके और आफताब पूनावाला के बीच विवाद सुलझा लिया गया है। उस समय मामले में जो भी आवश्यक कार्रवाई करनी थी, पुलिस ने उस समय की थी। शिकायतकर्ता की ओर से दिए गए आवेदन की भी जांच की गई थी। जांच के बाद शिकायतकर्ता ने खुद लिखित बयान दिया था कि दोनों के बीच कोई विवाद नहीं है। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

सुशांत सिंह राजपूत की मैनेजर दिशा सालियान के निधन पर सीबीआई का बड़ा खुलासा

सुशांत सिंह राजपूत के निधन से पहले उनकी मैनेजर दिशा सालियान का निधन हो गया था। उस वक्त ऐसा कहा जा रहा था कि दिशा के मौत का सुशांत केस से लेना-देना होगा। वहीं कुछ का कहना था कि दिशा का मर्डर हुआ है। अब इस केस में नया अपडेट आया है। सीबीआई का कहना है कि दिशा का निधन एक्सीडेंट था। सीबीआई का कहना है कि दिशा ने ड्रिंक की हुई थी और बैलेंस बिगड़ने की वजह से वह गिर गई थीं। जांच के दौरान पता चला है कि दिशा ने अपने बर्थडे पर घर में एक छोटा फंक्शन रखा था। पार्टी में दिशा ने ड्रिंक कर ली थी और इस वजह से उनका बैलेंस बिगड़ा और वह फ्लैट से गिर गईं। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

IPL 2023 : रिटेन नहीं होने पर मनीष पांडे का छलका दर्द

स्टार बल्लेबाज मनीष पांडे कोच्चि में 23 दिसंबर को होने वाली आईपीएल नीलामी में फ्रेंचाइजी टीमों की नजर में होंगे। क्योंकि आईपीएल 2023 मिनी नीलामी से पहले लखनऊ सुपर जायंट्स ने उन्हें रिटेन नहीं किया है। मिनी नीलामी से पहले आईपीएल में खेलने वाले कई दिग्गज खिलाड़ियों को उनकी फ्रेंचाइजी ने रिटेन नहीं किया, जिसमें कीरोन पोलार्ड, केन विलियमसन, ड्वेन ब्रावो जैसे विदेशी खिलाड़ियों के नाम शामिल हैं, जबकि भारतीय खिला़ड़ियों में मनीष पांडे, मयंक अग्रवाल और अजिंक्य रहाणे हैं। घरेलू क्रिकेट के स्टार खिलाड़ी मनीष पांडे को पिछले साल लखनऊ सुपर जायंट्स ने 4.6 करोड़ रुपये में चुना। हालांकि वह केएल राहुल के नेतृत्व वाली टीम के लिए ज्यादा कमाल नहीं दिखा सके। क्लिक कर पढ़ें पूरी खबर।

Source link

Advertisement

Leave a Reply