Advertisement

Advertisement

बता दें कि, दोनों कंपनियां देश के इलेक्ट्रिक बाजार को और बेहतर बनाने की दिशा में काम करेंगी, इसके तहत बाध्यकारी आपूर्ति समझौते पर बातचीत की जाएगी और 2022 के अंत तक निष्कर्ष निकाला जाएगा। इस साझेदारी के साथ, महिंद्रा अपने “बॉर्न इलेक्ट्रिक प्लेटफॉर्म” को एमईबी इलेक्ट्रिक कंपोनेंट्स जैसे इलेक्ट्रिक मोटर्स, बैटरी सिस्टम कंपोनेंट्स और बैटरी सेल से लैस करना चाहता है। एमईबी इलेक्ट्रिक प्लेटफॉर्म और इसके कंपोनेंट्स कार निर्माताओं को इलेक्ट्रिक वाहनों के अपने पोर्टफोलियो को बेहतर और किफायती बनाने की सुविधा प्रदान करता है।

यह भी पढें: Car Loan लेने से पहले जरूर जान लें ये 5 बातें! नहीं तो लग सकता है तगड़ा झटका

गौरतलब हो कि, वोक्सवैगन के एमईबी इलेक्ट्रिक प्लेटफॉर्म का उपयोग कंपनी के अन्य ब्रांड्स जैसे ऑडी, स्कोडा और सीट/कपरा के साथ-साथ बाहरी भागीदारों द्वारा किया जाता है। अब इस प्लेटफॉर्म और कंपोनेंट्स का इस्तेमाल महिंद्रा अपने आने वाले इलेक्ट्रिक वाहनों में भी करेगा। देश का चारपहिया इलेक्ट्रिक बाजार जिस पर अब तक टाटा मोटर्स की धाक है, अब महिंद्रा की नजरें भी इस सेग्मेंट मार्केट पर आ टिकी हैं।

Mahindra अपने नए ‘बॉर्न इलेक्ट्रिक विजन’ के तहत 3 नई प्योर इलेक्ट्रिक SUV पेश करेगी। तीनों एसयूवी को कथित तौर पर महिंद्रा एडवांस्ड डिजाइन यूरोप (MADI) द्वारा डिजाइन किया गया है जो यूनाइटेड किंगडम में स्थित ब्रांड का नया ग्लोबल डिज़ाइन सेंटर है। कंपनी द्वारा जारी किए गए टीज़र वीडियो के अनुसार, इन वाहनों में एक कॉम्पैक्ट एसयूवी, एक मिड-साइज़ की एसयूवी और एक कूपे एसयूवी शामिल हैं।

Source link

Advertisement

Leave a Reply