Manika Batra became the first Indian table tennis player to win a medal at the ITTF ATTU Asian Cup

0
42
Advertisement

Advertisement
ऐप पर पढ़ें
मनिका बत्रा आईटीटीएफ एटीटीयू एशियाई कप में पदक जीतने वाली पहली भारतीय टेबल टेनिस खिलाड़ी बन गई जिन्होंने दुनिया की छठे नंबर की खिलाड़ी जापान की हिना हायाता को प्लेआफ में हराकर कांस्य पदक जीता। दुनिया की 44वें नंबर की खिलाड़ी मनिका ने हयाता को 11-6, 6-11, 11-7, 12 -10, 4-11, 11-2 से हराया। इस जीत के साथ उन्हें कांस्य पदक के साथ 10000 डॉलर भी मिलेंगे।

FIFA World Cup: फीफा वर्ल्ड कप से जुड़ा दिलचस्प रिकॉर्ड, जानिए किसने किया था वर्ल्ड कप में पहला गोल

जीत के बाद मनिका ने कहा ,”यह मेरे लिये बहुत बड़ी जीत है। मैंने खेल का पूरा मजा लिया और शीर्ष खिलाड़ियों के खिलाफ अच्छा प्रदर्शन किया। मैं भविष्य में भी मेहनत करती रहूंगी।”

इससे पहले वह सेमीफाइनल में जापान की चौथी वरीय मीमा इतो से हार गई थी। गैर वरीयता प्राप्त मनिका इस महाद्वीपीय टूर्नामेंट के सेमीफाइनल में पहुंचने वाली पहली भारतीय महिला बनी थीं। उन्हें दुनिया की पांचवें नंबर की टेबल टेनिस खिलाड़ी से 8-11 11-7 7-11 6-11 11-8 7-11 (2-4) से हार का सामना करना पड़ा।

कतर में फुटबॉल फैंस ने की ये 5 गलतियां तो लगेगा लाखों रुपए का जुर्माना, आप भी पढ़े नियम

मनिका ने क्वार्टर फाइनल में चीनी ताइपे की अपने से बेहतर रैंकिंग की चेन सू यू को 4-3 से हराया था। मनिका एशियाई कप के 39 साल के इतिहास में भारतीयों में सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन का रिकॉर्ड अपने नाम सुनिश्चित कर चुकी हैं। इससे पहले 2015 में अचंता शरत कमल और 2019 में जी साथियान छठे स्थान पर रहे थे।

इस शीर्ष भारतीय खिलाड़ी ने इससे पहले चीन की दुनिया में सातवें नंबर की चेन जिंगटोंग को उलटफेर का शिकार बनाया था। इस दो लाख डॉलर इनामी प्रतियोगिता में विश्व रैंकिंग और क्वालिफिकेशन के आधार पर महाद्वीप के पुरुष और महिला वर्ग में चोटी के 16 खिलाड़ी भाग ले रहे हैं। 

Source link

Advertisement

Leave a Reply