Path open for Dawid Warner captaincy after code of Conduct amended

0
26
Advertisement

Advertisement
ऐप पर पढ़ें
एक बार फिर से इस बात की उम्मीद जगी है कि डेविड वॉर्नर ऑस्ट्रेलिया की टीम की कप्तानी करते नजर आ सकते हैं। हालांकि, अभी इसके लिए थोड़ा इंतजार करना होगा, क्योंकि डेविड वॉर्नर कप्तानी के लिए अपने मामले पर पुनर्विचार कराने में सक्षम होंगे, क्योंकि क्रिकेट ऑस्ट्रेलिया ने अच्छे व्यवहार की शर्त पर दंड की समीक्षा करने के लिए अपनी आचार संहिता (कोड ऑफ कंडक्ट) में बदलाव की पुष्टि की है।

2018 में केपटाउन के न्यूलैंड्स में गेंद से छेड़छाड़ कांड के बाद डेविड वॉर्नर को कप्तानी से जीवन भर के लिए प्रतिबंधित कर दिया था। यहां तक कि पहले वॉर्नर इसकी समीक्षा भी नहीं करा सकते थे, लेकिन अब वॉर्नर तीन आचार संहिता आयुक्तों के एक पैनल के समक्ष उस मंजूरी की समीक्षा का अनुरोध करने में सक्षम होंगे। इस प्रक्रिया को पूरा करने के लिए जल्द से जल्द सुनवाई की व्यवस्था भी की जा सकती है।

बॉल टैंपरिंग के बाद डेविड वॉर्नर, कैमरोन बैनक्राफ्ट और स्टीव स्मिथ को खेल से बैन कर दिया था। वॉर्नर और स्मिथ पर एक-एक साल का प्रतिबंध लगा था, जबकि बैनक्राफ्ट को 9 महीने क्रिकेट से दूर रहने की सजा मिली। यहां तक कि स्मिथ पर कप्तानी से दो साल का बैन लगा, जबकि डेविड वॉर्नर को आजीवन कप्तानी से प्रतिबंधित कर दिया था। वॉर्नर उस सीरीज में उपकप्तानी कर रहे थे। 

सिडनी थंडर ने क्रिकेट न्यू साउथ वेल्स के माध्यम से अनुरोध किया था कि वॉर्नर के प्रतिबंध की समीक्षा की जाए, ताकि अगले साल जनवरी में उनके लिए चार या पांच मैच खेलने के लिए उपलब्ध रहने वाले डेविड वॉर्नर पर बिग बैश लीग क्लब के नेतृत्व के लिए विचार किया जा सके। सीए के बोर्ड ने अपनी अक्टूबर की बैठक में आचार संहिता की समीक्षा को मंजूरी दी है।

 

Source link

Advertisement

Leave a Reply