Advertisement

Advertisement
PTET Counselling 2022: राजस्थान पीटीईटी काउंसलिंग प्रक्रिया कल से शुरू होगी। चार वर्षीय बीए बीएड बीएससी बीएड कोर्स की काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन 7 अगस्त यानी कल से शुरू होंगे।

जय नारायण व्यास यूनिवर्सिटी की ओर से जारी शेड्यूल के मुताबिक रजिस्ट्रेशन 16 अगस्त तक किया जा सकेगा। अभ्यर्थी www.ptetraj2022.com या www.ptetraj2022.org पर रजिस्ट्रेशन कर सकेंगे। 

चार वर्षीय बीएड काउंसलिंग का पूरा शेड्यूल 

– काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन और फीस (5000) जमा कराने की प्रक्रिया शुरू होन की तिथि – 07 अगस्त से 

16 अगस्त 2022

– कॉलेज च्वॉइस फिलिंग : 07 अगस्त 2022 से 18 अगस्त 2022

– पहली काउंसलिंग के बाद सीट आवंटन : 22 अगस्त 2022

–  पहली काउंसलिंग के बाद एडमिशन फीस (22000) जमा होगी: 23 अगस्त से 30  अगस्त 2022

– काउंसलिंग के बाद कॉलेज में रिपोर्टिंग: 24 अगस्त 2022 से 31 अगस्त 2022

– कॉलेज रिपोर्टिंग के बाद अपवर्ड मूवमेंट के लिए आवेदन करें- 26 अगस्त 2022 से 02 सितंबर 2022

– अपवर्ड मूवमेंट के बाद कॉलेज आवंटन: 06 सितंबर 2022

– अपवर्ड मूवमेंट के बाद कॉलेज में रिपोर्टिंग: 07 सितंबर 2022 से 12 सितंबर 2022

बीएड कोर्स में दाखिले के इच्छुक उम्मीदवारों को 5000 रुपये काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन फीस जमा करनी होगी। बाद में ये फीस कॉलेज में एडमिशन लेने में फीस में एडजस्ट हो जाएगी। अभ्यर्थियों को कॉलेज चॉइस करना होगा। जहां तक संभव हो वरीयता के क्रम में अधिक से अधिक कॉलेज का चयन करें। राजस्थान के बाहर के अभ्यर्थी केवल जनरल सीट पर दाखिला ले सकते हैं। उन्हें आरक्षण का फायदा नहीं मिलेगा। 

पीटीईटी में परफॉर्मेंस के आधार पर मेरिट लिस्ट बनेगी। मेरिट के आधार पर बीएड कॉलेज अलॉट होगा। काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन शुरू होने, फीस जमा कराने और च्वॉइस फिलिंग की तिथियां जल्द ही जारी होंगी। कुल सीटों में से एससी के लिए 16, एसटी के लिए 12, ओबीसी के लिए 21, एमबीसी के लिए 5, ईडब्ल्यूएस के लिए 10 फीसदी सीटें आरक्षित हैं। 

रिजल्ट के आगे की प्रक्रिया

1. काउंसलिंग रजिस्ट्रेशन

2.  काउंसलिंग में पंजीकरण की अंतिम तिथि

3. अपवार्ड मूवमेंट

4. पहली सूची की घोषणा की तिथि

5. दूसरी सूची की घोषणा की तिथि

6. तीसरी सूची की घोषणा की तिथि

7. प्रवेश प्रक्रिया की समाप्ति

8. काउंसलिंग की अंतिम तिथि

9. शैक्षणिक सत्र का प्रारंभ

पीटीईटी नोटिफिकेशन के मुताबिक एक उम्मीदवार को उसकी मेरिट के हिसाब से बीएड कॉलेज अलॉट किया जाएगा न कि उसके जिले या स्थान के हिसाब से। कॉलेज अलॉट करते समय उसके द्वारा भरी गई वरीयता,  उसकी फैकल्टी, टीचिंग विषय, कॉलेज की च्वॉइस भी देखी जाएगी। 

वर्तमान में अपवर्ड  मूवमेंट की सुविधा उपलब्ध है। अभ्यर्थी इसकी सुविधा का लाभ ले सकता है। अभ्यर्थी आवंटित बीएड कॉलेज को रिपोर्ट करने के बाद यदि उसे मेरिट अनुसार नया कॉलेज आवंटित हो जाता है, तो उसे नये  कॉलेज में रिपोर्ट  करना आवश्यक होगा। पहले आवंटित कॉलेज में  प्रवेश इस स्थिति में निरस्त हों जायेगा। यदि अभ्यर्थी  को नया कॉलेज आवंटित नहीं होता है तो उसका प्रवेश पहले आवंटित कॉलेज में जारी रहेगा तथा नहीं जाने पर शुल्क भी नहीं लौटाया जाएगा।

Source link

Advertisement

Leave a Reply