Advertisement

Advertisement
टाटा ग्रुप ऑफ इंडस्ट्रीज के एमेरिटस चेयरमैन रतन टाटा को सबसे विनम्र उद्योगपतियों में से एक के रूप में जाना जाता है। अब सादगी भरा जीवन जिने वाले रतन टाटा वह एकबार फिर सुर्खियों में है। उन्होनें एकबार फिर इंटरनेट पर लोगों का दिल जीत लिया है और लोग उन्हें ‘लैजेंड’ कह रहे हैं।

दरअसल इन दिनों इंटरनेट पर एक वीडियो वायरल हो रहा है जिसमें रतन टाटा बिना सुरक्षा गार्ड के टाटा नैनो कार में मुंबई के ताज होटल में पहुंचे हैं। लोग यह देखकर हैरान है कि अरबपति रतन टाटा किसी भी लग्जरी कार का खर्च उठा सकते हैं, लेकिन इसके बावजूद वह 1 लाख की कार में यात्रा करते है, जिसे उनकी कंपनी ने 2008 में भारतीयों के कार रखने के सपनों को पूरा करने के लिए डिजाइन किया था।

इस वीडियो को वायरल भयानी ने इंस्टाग्राम पर शेयर करते हुए लिखा कि लैजेंड को आज हमारे फॉलोअर बाबा खान ने ताज होटल के अंदर जाते स्पॉट किया। बाबा ने कहा कि वह उनकी सादगी से चकित थे क्योंकि उनके पास कोई बॉडीगार्ड नहीं था। यूजर्स ने वीडियो देखने के बाद रतन टाटा के प्रति सम्मान जताते हुए उन्हें ‘लैजेंड’ बताया।

संबंधित खबरें

इससे पहले रतन टाटा ने देश की सबसे सस्ती कार नैनो को लेकर काफी इमोशनल स्टोरी भी शेयर की थी। जिसमें उन्होनें लिखा था कि भारतीय परिवारों के लिए सड़क यात्रा को सुरक्षित बनाने की उनकी इच्छा ने उन्हें टाटा नैनो बनाने के लिए प्रेरित किया था। उन्होनें लिखा था कि जिस चीज ने मुझे वास्तव में प्रेरित किया और इस गाड़ी का प्रोडेक्शन करने की इच्छा जगाई, वह लगातार भारतीय परिवारों को स्कूटर पर जाते देखते थे, जिसमें बच्चे, माता-पिता के बीच में फिसलन भरी सड़कों पर सवारी करते थे। 

उन्होंने आगे कहा कि स्कूल ऑफ आर्किटैक्चर में काम करने का सबसे बड़ा फायदा ये रहा कि उसने मुझे खाली वक्त में कई तरह के आईडियाज दिए। उन्होंने आगे कहा कि सबसे पहले हमने ये पता लगाने की कोशिशि की, कि कैसे टू-व्हीलर को सुरक्षित बनाया जाए। तब मेरे दिमाग में जो डूडल बना, वो 4 व्हीलर का बना, जिसमें कोई विनडो नहीं, कोई दरवाजा नहीं, वो बस केवल एक बग्गी बनी। लेकिन मैंने फाइनली डिसाइड किया कि ये एक कार होनी चाहिए। Nano हर व्यक्ति के लिए बनाई गई है।

Source link

Advertisement

Leave a Reply