Advertisement

Advertisement
कक्षा आठ में नामांकित सौ फीसदी विद्यार्थियों का नामांकन कक्षा नौ में किया जाए। प्री प्राइमरी का डाटा भी इस बार पीएबी में यूडायस से ही लिया जाएगा इसलिए आंगनबाड़ी केन्द्र से संबंधित सूचना भी भरी जाए। यूडायस (यूनिफाइड डिस्ट्रिक्ट इनफार्मेशन इनफार्मेशन सिस्टम फार एजुकेशन) में सभी सरकारी, सहायताप्राप्त व निजी स्कूलों व मदरसा आदि के स्कूलों का ब्यौरा जरूर भरा जाए अन्यथा प्रदेश की नेट इनरोलमेंट रेट समेत पीजीआई रैंकिंग में गिरावट आ जाएगी है।

बेसिक शिक्षा विभाग के प्रमुख सचिव दीपक कुमार ने गुरुवार को आदेश जारी कर यू-डायस पर 2021-22 का डाटा की शुद्धता पर ध्यान देने के निर्देश दिए हैं। अब यू-डायस डाटा के आधार पर ही कार्ययोजना समेत बजट आदि का आवंटन होता है। इसी आधार पर राज्य व स्कूलों की रैंकिंग भी तय की जाती है। उन्होंने कहा है कि यदि स्कूलों में किसी भी तरह की मरम्मत की जरूरत है तो संबंधित फार्म में इसका ब्यौरा भरा जाए अन्यथा प्रस्ताव नामंजूर कर दिया जाएगा। इस बार प्री-प्राइमरी में पढ़ाई शुरू हो चुकी है। अब इसके लिए भी प्रस्ताव पीएबी में भेजा गया है। यदि एक स्कूल परिसर में एक से ज्यादा आंगनबाड़ी केन्द्र हैं तो उनका कोड भी अंकित किया जाए।

संबंधित खबरें

इस बार स्कूलों में स्मार्ट टीवी, प्रोजेक्टर आदि का डाटा भी यू डायस पर भरा जाए चाहे वह किसी भी साधन से स्कूल में लगाया गया हो। इसे अंकित न करने की दशा में पीजीआई रैंकिंग में प्रदेश को अंक नहीं मिलते।

Source link

Advertisement

Leave a Reply