Advertisement

Advertisement
UPPRPB UPPBPB UP Police SI Result : यूपी पुलिस में एसआई, पीएसी में प्लाटून कमांडर एवं अग्निशमन विभाग में द्वितीय अधिकारी के पदों पर हुई सीधी भर्ती  में डेढ़ दर्जन से अधिक जिलों के अभ्यर्थियों ने इलाहाबाद हाईकोर्ट में याचिका दाखिल कर 2020 – 21 की भर्ती प्रक्रिया में धांधली एवं अनियमितताओं का आरोप लगाते हुए चुनौती दी है।  उच्च न्यायालय ने गुरुवार को इस याचिका पर सुनवाई करते हुए उत्तर प्रदेश के आला पुलिस अधिकारियों, उत्तर प्रदेश पुलिस भर्ती एवं प्रोन्नति बोर्ड के चेयरमैन और परीक्षा कराने वाली संस्था नेशनल स्टॉक एक्सचेंज ऑफ इंडिया लिमिटेड को नोटिस जारी कर जवाब तलब किया है।

न्यायमूर्ति सौरभ श्याम शमशेरी ने याचिकाकर्ता तनु चौधरी और अन्य की याचिका पर सुनवाई करते हुए नोटिस जारी किया है। याची के वरष्ठि अधिवक्ता विजय गौतम एवं अतप्रियि गौतम ने दलील दी कि परीक्षा संपन्न कराने वाली संस्था को पहले से ही मध्य प्रदेश और उत्तराखंड में काली सूची में डाला गया है। उन्होंने कहा कि इसी संस्था ने पहले भी वर्ष 2016-17 में दरोगा, नागरिक पुलिस की परीक्षा संपन्न कराई थी। इस परीक्षा के चयन में भी अनियमितताएं पाई गई थी। जांच के बाद संस्था के ऊपर लगाए गए अनियमितताओं के आरोप सही पाए गए थे।

UP Police SI Bharti : मिले थे 80 फीसदी से ज्यादा सवालों के सही जवाब, आरोपी सिपाही को नौकरी से निकाला

     

अधिवक्ताओं का कहना था कि संस्था के ऊपर लगे इतने गंभीर आरोपों के बावजूद राज्य सरकार ने इसी संस्था को दरोगा भर्ती 2020- 21 की परीक्षा संपन्न कराने का अनुबंध कर दिया। न्यायालय से इस मामले में उच्च स्तरीय जांच कराने की भी मांग की गई है। 

Source link

Advertisement

Leave a Reply