Advertisement

Advertisement
भारतीय रन मशीन विराट कोहली (Virat Kolhi) अपने पुराने रंग में लौट आए हैं। रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के बल्लेबाज कोहली ने गुरुवार को गुजरात टाइटंस के खिलाफ 54 गेंदों पर 73 रनों की ताबड़तोड़ पारी खेली। अपनी पारी के दौरान उन्होंने आठ चौके और दो छक्के लगाए। कोहली की विराट पारी के दम पर बैंगलोर ने गुजरात को आठ विकेट से रौंदकर प्लेआफ में पहुंचने की अपनी उम्मीदों को जिंदा रखा है। अपनी इस शानदार पारी के बाद कोहली ने अब आलोचकों की बोलती बंद कर दी है। उनका यह प्रदर्शन इसलिए भी खास है क्योंकि इस मैच से पहले वह खराब फॉर्म से जूझ रहे थे और जारी सीजन में 14 मैचों में वह सिर्फ दो बार अर्धशतक बना पाए थे। कोहली ने मैच के बाद कहा कि आपको बस मेहनत करते रहना होता है कौशल पर चलते रहना होता है।

कोहली ने बटलर से कहा- मेरे से रन नहीं बन रहे, क्या पूछना चाहते हो?

विराट ने मैच के बाद कहा, ‘बहुत इमोशंस थे आज, मैं बस चलना चाहता था। आज का मैच हमारे लिए अहम था। मैं खुश हूं कि आज मैं ऐसा कर पाया अपनी टीम को दो अंक दिला पाया। आपको बस परस्पेक्टिव सही रखना होता है, आपसे उम्मीदें होती है क्योंकि इतने सालों तक आपने किया है। आपको बस मेहनत करते रहना होता है कौशल पर चलते रहना होता है। कल मैंने 90 मिनट तक नेट पर बिताए, मैं हर गेंद पर क्लीयरिटी चाहता था। मैं आज रिलेक्स था हर गेंद को खेलते हुए, सोच नहीं रहा था कि अब तक क्या हुआ है।’

रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर की उम्मीद कायम, ये 5 टीमें हुईं बाहर

संबंधित खबरें

उन्होंन आगे कहा, ‘मेरे साथ ऐसा क्यों हो रहा है, ऐसा मेरे साथ 2014 में हुआ था, मैं शिकायत नहीं कर सकता हूं। मैं कभी टीम से बाहर हुआ तो कहीं मैंने टीम को मैच जिताए। मैं बस सिर नीचे करके अपनी टीम के लिए प्रदर्शन करना चाहता हूं। मैंने जब सबसे पहली बॉल शमी की खेली तो मुझे लगा कि आज है कुछ बात, मैं लेंथ बॉल खेल सकता हूं। पहले ही शॉट से मुझे पता था कि आज मुझे अपने शॉट को बैक करना होगा। इस पूरे आईपीएल, इस पूरे समय मुझे कोई शिकायत या पछतावा नहीं है। मैं बहुत खुशकिस्मत हूं कि मुझे ऐसे प्रशंसक मिले हैं।’

Source link

Advertisement

Leave a Reply